Video : Live Updates : उदयपुर में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के साथ शुरु हुआ मतदान, कई जगह मशीनें चालू नहीं हुई..

मोहम्मद इलियास/उदयपुर. Rajasthan Election 2018 Voting in Udaipur Live Updates : विधानसभा चुनाव को लेकर सुबह 8 बजे मतदान शुरू हो चुका है, मतदान केन्द्रों पर लोग जुटने लगे हैं। नव मतदाताओं में विशेष उत्साह देखने को मिल रहा है। महिलाएं व बुजुर्ग भी मतदान के लिए पहुंच रहे हैं। इधर, अपने—अपने प्रत्याशियों के समर्थन में कार्यकर्ताओं ने मतदान केन्द्र के बाहर व विभिन्न स्थानों पर स्टॉल्स लगाई है, जहां पर वें मतदान पर्ची बांट रहे हैं। सूत्रों के अनुसार उदयपुर के आदर्श मतदान केन्‍द्र सेंटपॉल स्‍कूल, कहार भोई समाज के नोहरे, सेंट्रल अकेडमी स्कूल, नांदवेल आदि स्‍थानों पर ईवीम के चालू नहीं होने के समाचार आ रहे है। उदयपुर ज़िले के सलुम्बर क्षेत्र के परसाद मतदान केंद्र पर क़रीब दस मिनट इवीएम बंद रहा, बताया जा रहा है कि इवीएम में परेशानी के कारण प्रत्याशी रघुवीर मीणा को भी कुछ देर के लिए वोटिंग से रोका गया।

 

READ MORE : Rajasthan Assembly Election : जिले की आठों विधानसभा के रुझान को लेकर चर्चाएं तेज ...

 

इधर, राजस्थान में 15वीं विधानसभा के लिए शुक्रवार को सुबह आठ बजे से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के साथ मतदान शुरु हो गया है। राज्य की कुल 200 में से 199 सीटों के लिए सायं पांच बजे तक वोट डाले जाएंगे। रामगढ़ सीट पर बसपा प्रत्याशी के निधन के कारण वहां का मतदान स्थगित कर दिया गया है। साथ ही प्रदेश में कई जगह मशीनें चालू नहीं होने के समाचार भी मिल रहे है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार के अनुसार सभी मतदान केंद्रों पर मतदान ईवीएम और वीवीपैट मशीनों से कराया जा रहा है। उन्होंने राज्य के सभी मतदाताओं से अपील की है कि वे देश की लोकतांत्रिक व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ करने के लिए निर्भय होकर बिना किसी डर व दबाव के मतदान करें. राजस्थान में 199 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के लिए कुल 4 करोड़ 74 लाख 37 हजार 761 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इनमें से प्रथम बार मतदान कर रहे युवा मतदाताओं की संख्या 20 लाख 20 हजार 156 है। प्रदेश की 199 सीटों के लिए कुल 2274 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. इनमें महिला उम्मीदवारों की संख्या 187 है।
मतदान के लिए 199 विधानसभा क्षेत्रों में कुल 51 हजार 687 मतदान केन्द्रों की स्थापना की गई है. इनमें 209 आदर्श मतदान केन्द्र के रूप में स्थापित किए गये हैं। राज्य में कुल 4 लाख 36 हजार 125 मतदाता विभिन्न श्रेणियों के दिव्यांग जन हैं। उनके लिए मतदान केन्द्रों पर विषेष व्यवस्था की गयी है. चुनाव आयोग ने स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव के लिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किये हैं। इसके लिए सिविल पुलिस के अलावा भारी संख्या में होमगार्ड और केंद्रीय सुरक्षा बल के जवान भी तैनात किये गये हैं।