video : भटेवर में इस वजह से पहले बरसात और अब सीवरेज के पानी से बर्बाद हुई किसानों की फसलें

हेमन्त गगन आमेटा, भटेवर... राष्ट्रीय राजमार्ग पर बसे भटेवर के बाईपास चौराहे पर प्रस्तावित सिक्स लाइन के कार्य के चलते किसानों की उपजाऊ जमीन में पहले बारिश का पानी और अब सीवरेज के पानी से फसलें बर्बाद हो रही है जिसका खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है। भटेवर में बाईपास चौराहे पर हाइवे किनारे स्थित किसानों की उपजाऊ जमीन पहले सिक्स लेन मैं आवाप्त होने के बाद शेष बची कुची जमीन पर भी पानी भरने से किसानों को दोहरा नुकसान झेलने पर मजबूर होना पड़ रहा है। ज्ञात रहे की भटेवर के बाईपास चौराहे पर हाईवे अथॉरिटी द्वारा बरसाती पानी निकासी के लिए नाला नही बनाने पर बारिश के समय किसानों के खेत पानी से लबालब भर जाने से खेतो में फसले सड़ जाती थी। इसके बाद अब रबी की सीजन में भी सिक्स लेन निर्माण कर रहे कर्मचारियो की लापरवाही से गांव के सीवरेज का पानी भी इन किसानों के खेत में डाला जारहा हे जिससे खेत सीवरेज के पानी से भर गए है और बचे हुए खेतो में भी गेंहू की फसल पर प्रभाव पड़ कर फसल बर्बाद हो रही है। किसान कैलाश चंद्र जणवा, शौभालाल जणवा ने बताया कि सिक्स लेन के निर्माण के चलते बरसाती पानी निकासी का नाला नही होने से बारिश के समय में खेतो के भरने से फसले नही हो रही थी लेकिन अब सीवरेज का पानी भी लापरवाही पूर्वक खेतो में छोड़ दिया गया जिससे रबी की फसल भी ख़राब हो गई है इस हाइवे निर्माण का खामियाजा हम किसानों को भुगतना पड़ रहा है। इस समस्या को लेकर प्रशासन के अधिकारियो से लेकर राष्ट्रिय राजमार्ग प्राधिकरण में शिकायते करके थक गए है लेकिन किसानों की सुनने वाला कोई भी नही है पूर्व में सीवरेज के पानी की निकासी के लिए अपने स्तर पर नाली का निर्माण करवाया लेकिन हाइवे निर्माण में उस नाली को भी तोड़ दिया गया जिससे अब गांव का सारा सीवरेज का पानी खेतो में आकर जमा हो रहा है। इससे बिन बारिश खेत तलैया बन कर फसले चौपट हो गई है।