Video : बांसवाड़ा के कुछ बच्चों ने मतदाता जागरूकता के लिए बनाई शॉर्ट फिल्म, बोले- हम मतदान नहीं कर सकते, लेकिन प्रेरित तो कर सकते हैं

बांसवाड़ा. मतदान का नाम सुनते ही जेहन में 18 वर्ष से अधिक उम्र का ख्याल आता है, जो नियम कायदों के हिसाब से सही भी है, लेकिन यह आवश्यक नहीं कि मतदान के प्रति किसी को प्रेरित करने के लिए भी उम्र 18 वर्ष या इससे अधिक हो। और ऐसा ही उदाहरण पेश किया है बांसवाड़ा शहर की बाहुबली कॉलोनी के बच्चों ने, जिन्होंने लघु फिल्म बनाकर सभी मतदाताओं को आगामी सात दिसम्बर को आवश्यक रूप से मतदान करने की अपील की है।

हम मतदान नहीं कर सकते, लेकिन प्रेरित तो कर सकते हैं
आमजन को मतदान के लिए प्रेरित करने वाले ये सभी बच्चे 18 वर्ष आयु से कम हैं। इन आठ बच्चों में कुछ कक्षा नौ में अध्ययनरत हैं तो कुछ कक्षा 10 में। इन बच्चों का कहना है कि यह सही है कि नियमानुसार हम मतदान नहीं कर सकते, लेकिन हम मतदान का महत्व समझते हैं और इसलिए ही हम सभी ने मिलकर लघु फिल्म बनाई ताकि सभी मतदाताओं से वोट डालने की अपील कर सकें। प्रमुख जैन, दक्ष कोठारी, निधि सेठ, वंश तिवारी, प्रखर जैन, तनिश पारसोलिया, हर्ष कट्टू और ईश शाह ने फिल्म में किरदार निभाए।

ऐसे आया विचार
लघु फिल्म बनाने वाले बच्चों के ग्रुप ‘फ्यूचर ऑफ इंडिया’ के ईश शाह ने बताया कि चंूकि बांसवाड़ा जिले में बड़ा वर्ग अशिक्षित है, जिन्हें मतदान की अहमियत नहीं पता है। इसके अलावा कुछ लोग लोभ में आकर, जाति और रिश्तेदारी के नाम पर तथाकथित प्रत्याशियों को मतदान करते हैं। वो लोग यह नहीं विचार करते कि मतदान उनका अधिकार है जिसके बूते सरकार बनती है और उनका एक मत एक अच्छी सरकार बनाने में मदद करता है। राह से भटके हुए ऐसे ही लोगों को जागरूक करने के हम सभी दोस्तों ने मिलकर लघु फिल्म बनाई है।