बारिश की शुरुआत : बस्तियों में कीचड़ और गंदगी का डेरा

mewar kiran news
नीमच। बारिश की शुरुआत के साथ शहर की रहवासी बस्तियों में कीचड़ और गंदगी ने डेरा डाल दिया है। पिछड़ी बस्तियों के रहवासी इन समस्याओं से अभी से परेशान हो चुके हैं, लेकि न उनकी त्वरित सुनवाई नहीं हो रही है। इससे नागरिकों में आक्रोश है। वे जिला प्रशासन और नगर पालिका के दर पर दस्तक देने को तैयार हैं।

1.37 लाख से अधिक की आबादी वाले शहर 5 कि लोमीटर के दायरे में 40 वार्डों में बंटा है। हर साल बारिश शहर की पिछड़ी बस्तियों और कॉलोनियों में मुसीबत लेकर आती है। इस बार मानसून ने देरी से दस्तक दी है, लेकि न बारिश की शुरुआत के साथ कीचड़, गंदगी और अन्य तरह की परेशानियां सामने आने लगी हैं। हाल ही की दो दिन की बारिश से इन क्षेत्रों में लोग नारकीय जीवन जीने को विवश हो चुके हैं।

ईदगाह कॉलोनी

वार्ड 17 स्थित ईदगाह कॉलोनी में सभी वर्ग के लोग निवास रहते हैं। मूलतः श्रमिक और अन्य तबकों से ताल्लुक रखने वाले लोग इस कॉलोनी में रहते हैं। वर्तमान में यहां मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। सड़क तो दूर, गंदे पानी की निकासी के लिए नालियों का अभाव है। पहली बारिश ने कॉलोनी के रहवासियों के सामने मुसीबत खड़ी कर दी है। घरों के सामने बारिश का गंदा पानी जमा है। कीचड़ और अन्य समस्या भी गहरा चुकी है। रात के समय जहरीले जानवरों का भी डर सताता है।

एक और पूरा शहर साफ है, लेकि न हमारी कॉलोनी में समस्या है। बारिश की शुरुआत से कॉलोनी में कीचड़ की समस्या गहरा चुकी है। आवागमन में दिक्कत के साथ जहरीले जीव-जंतुओं की समस्या खड़ी हो गई है, लेकि न कोई सुनने को तैयार नहीं है।

– नफीसा बी, ईदगाह कॉलोनी

 

कॉलोनी में कीचड़ की समस्या गंभीर हो चुकी है। बारिश की शुरुआत के साथ यह परेशानी शुरू हुई है, जो बारिश के खत्म होने तक चलेगी। इसके अलावा क्षेत्र में स्ट्रीट लाइट की समस्या भी है, लेकि न जनप्रतिनिधि और अधिकारी सुनने को राजी नहीं है।

-जरीना बी, ईदगाह कॉलोनी

बगीचा नंबर 10

शहर के रोडवेज और प्राइवेट बस स्टैंड के नजदीक बगीचा नंबर 10 स्थित है। नीमच सिटी रोड से सटे इस हिस्से में बारिश के 4 माह नागरिकों के लिए मुसीबत बनते हैं। वर्तमान में भी बारिश में लोगों के सामने कीचड़ और गंदगी की समस्या गहरा चुकी है। लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है। साथ ही दुर्घटना के साथ जहरीले जीव-जंतुओं का डर बना रहता है। नागरिकों की मानें तो बारिश इस बार भी मुसीबत लेकर आई है। जनप्रतिनिधियों ने जल्द समस्या के समाधान का भरोसा दिया है, लेकि न नागरिकों को इस पर उम्मीद कम है।

रास्तों पर कीचड़ जमा होने से आवागमन में परेशानी होती है। कीचड़ के कारण बच्चों को सर्वाधिक असुविधा होती है। दुर्घटनाएं होती हैं। बारिश के दिनों में बच्चों के घर से बाहर निकलने पर बेहद सतर्कता बरते हैं।

-नूतन कंवर बैंस, बगीचा नंबर 10

 

क्षेत्र में 1983 के दशक से रहा हूं, लेकि न कोई सुनवाई नहीं हो रही है। क्षेत्र में साफ-सफाई की समस्या है। साथ ही बारिश में कीचड़ से ज्यादा असुविधा होती है। लोग दुर्घटना के शिकार होते हैं।

– नानालाल गुर्जर, बगीचा नंबर 10