नीमच मंडी – व्यापारियों की हड़ताल से मंडी में लगातार दूसरे दिन कारोबार प्रभावित

mewar kiran news

नीमच। व्यापारियों की हड़ताल के कारण शुक्रवार को मंडी में लगातार दूसरे दिन कारोबार प्रभावित रहा। मंडी परिसर सूना रहा। कि सानों ने भी मंडी से दूरी बनाई। वहीं मंडी के व्यापारी शनिवार को राज्यपाल और मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपेंगे।

मंडी शुल्क तथा मंडी से जुड़ी अन्य समस्याओं के समाधान की मांग को लेकर मप्र अनाज, दलहन और तिलहन व्यापारी महासंघ के आह्वान पर 21 जून से प्रदेश की मंडियों में प्रदेशव्यापी हड़ताल शुरू हुई है। तीन दिन हड़ताल में जिले की मंडियों के व्यापारी भी शामिल हैं। गुरुवार के बाद शुक्रवार को लगातार कृषि उपज मंडी के 600 से अधिक लाइसेंसी व्यापारी हड़ताल पर रहे। सामान्य दिनों में कि सान और उपज से गुलजार रहने वाली मंडी शुक्रवार को सूनी रही। 2 से 3 करोड़ रुपए का कारोबार लगातार दूसरे दिन भी प्रभावित हुए। मंडी

व्यापारी प्रतिनिधि नवल मित्तल ने बताया कि व्यापारियों की हड़ताल प्रदेश व्यापी आह्वान पर 23 जून तक चलेगी। हड़ताल के अंतिम दिन 23 जून को कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

हड़ताल का असर सभी पक्षों पर

मंडी के 600 से अधिक व्यापारियों की हड़ताल का असर सभी पक्षों पर पड़ रहा है। लगातार कि सानों ने मंडी से दूरी बनाई। व्यापारियों की हड़ताल के कारण मंडी में आवक नहीं हुई। इससे कारोबार प्रभावित हुए। साथ ही तुलावटी, हम्माल, लोडिंग व हाथ ठेला चालक भी बेरोजगार रहे हैं। उन्हें आर्थिक रूप से अधिक नुकसान हुआ है।