जोरदार बारिश से शहर से तरबतर, ग्रामीण अंचल में भी बारिश

– लगातार दूसरे दिन भी रुक-रुककर बारिश

– नागरिकों को गर्मी से राहत, कि सानों के चेहरे पर आई मुस्कान

mewar kiran news

नीमच। जोरदार बारिश से सोमवार को शहर तरबतर हो गया। सड़कों पर पानी बह निकला। ग्रामीण अंचल में बारिश से कि सानों के चेहरे खिल उठे। लगातार दूसरे दिन बारिश होने से जहां लोगों को गर्मी और तपन से राहत मिली वहीं कि सानों ने बोवनी की तैयारी शुरू कर दी।

इस बार जिले में मानसून ने देरी से दस्तक दी। रविवार शाम से देर रात तक जोरदार बारिश हुई। इसके बाद सोमवार दोपहर में आसमान में बादलों ने डेरा और तेज हवा के साथ बारिश का दौर शुरू हो गया। लगभग एक घंटे से अधिक समय तक जोरदार बारिश का क्रम चला। इससे शहर की सड़कें तरबतर हो गई। कई निचले क्षेत्रों में जलजमाव के हालात भी बने।

कॉलोनियों व बस्तियों में कीचड़ की समस्या

बारिश के बाद शहर की पिछड़ी कॉलोनी व बस्तियों में कीचड़ की समस्या हो गई। कीचड़ के कारण आवागमन में परेशानी हुई। ईदगाह रोड, कॉलोनी, आंबेडकर कॉलोनी, एकता कॉलोनी, विस्थापितों का मैदान सहित अन्य क्षेत्रों में परेशानी हुई है। लोगों ने नपा से समस्या के समाधान की मांग की है।

बिजली गिरने से पानी की टंकी फू टी, उपकरण भी खराब

शहर के नीमच सिटी रोड पर स्थित बगीचा नंबर 13 में सांवरियाजी मंदिर के समीप रविवार रात बिजली गिरने की घटना हुई। बिजली गिरने से प्यारचंद बंजारा के घर की पानी की सीमेंटेड टंकी फू ट गई। बिजली के कारण मकान की दीवार में दरार आई। साथ ही टीवी, फ्रीज व अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान को नुकसान हुआ है। घटना के दौरान घर में कोई नहीं था। इससे जनहानि टल गई।

कृषि विभाग की सलाह

– 3 से 4 इंच बारिश के बाद बोवनी करें।

– जमीन में 5 से 6 इंच नमी आने तक इंतजार करें।

– बोवनी के पूर्व बीजों को उपचारित करें।

– जरूरत के मुताबिक खाद व उर्वरक का उपयोग करें।

तेज हवा व बारिश से नुकसान

अठाना। नगर व आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में बारिश व तेज हवा से काफी नुकसान हुआ है। सोमवार दोपहर बाद अठाना व आसपास के क्षेत्रों में जोरदार बारिश का क्रम शुरू हुआ। दोपहर करीब 2 बजे तेज हवा के साथ बारिश से लोगों के कच्चे घरों की छत को नुकसान हुआ है। कई स्थानों पर पेड़ व बिजली के पोल गिरने की जानकारी भी सामने आई है। काफी देर तक बिजली आपूर्ति बाधित रही। सुखानंद, तुंबा और ढाणी में पेड़ गिरने की घटनाएं हुई है। तेज बारिश के बाद क्षेत्र में कि सानों ने बोवनी भी शुरू कर दी है।

लुहारिया चूंडावत में बिजली गिरने से 14 बकरियां मरी

रतनगढ़। नगर के समीप ग्राम लुहारिया चूंडावत में सोमवार दोपहर बिजली गिरने से 14 बकरियां मर गईं। जानकारी अनुसार घीसालाल भील बकरियों को चरा रहे थे इसी दौरान घटना हो गई। राजस्व व ग्राम पंचायत के अमले ने मौके पर पहुंचकर पंचनामा बनाया है।

बोवनी के लिए इंतजार करें

जिले में बारिश की शुरुआत हो चुकी है लेकि न बोवनी के लिए कि सान भूमि में 5 से 6 इंच तक नमी आने तक इंतजार करें। साथ ही बोवनी के पूर्व बीजों को उपचारित कर लें। जरूरत पड़ने पर कृषि विभाग के अधिकारियों व कृषि वैज्ञानिकों से भी चर्चा करें। -डॉ. सीपी पचौरी, वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक कृषि विज्ञान कें द्र नीमच

जिले में बारिश हो चुकी है। सामान्य तौर पर जिले में 20 से 30 जून के बीच ही बोवनी होती है। जिले में विखंडित और असामान्य बारिश होने के कारण अब तक शत प्रतिशत बोवनी नहीं हो सकी है। कि सान न्यूनतम 3 से 4 इंच बारिश और जमीन में पर्याप्त नमी आने पर बोवनी करें। -नगीन सिंह रावत, उप संचालक कि सान कल्याण एवं कृषि विभाग भोपाल