8 माह बाद 23 अप्रैल को होगी भीण्ड़र नपा की बोर्ड़ बैठक 

भीण्ड़र।  नगरपालिका भीण्ड़र की साधारण सभा की बैठक 8 माह गुजर जाने के बाद भी अभी तक नही बुलाई गई है जिसको लेकर मार्च का बजट अनुमोदन भी नही हो पाया था तो वही नगर विकास के कई मुद्दो पर चर्चा के अभाव में कार्य में देरी के कारण आम जनता को परेषानीयो का सामना करना पड़ रहा है लेकिन प्रषासन इस और ध्यान देना मुनासिब नही समझ रहा है। जिसको लेकर अध्यक्ष सहित 14 पार्षदो ने गत दिनो अधिषाषी अधिकारी भीण्ड़र को सात दिन में बोर्ड़ बैठक नही बुलाने पर पालिका कार्यालय के सामने धरना प्रदर्षन करने की चेतावनी दी जिस पर अब एजेण्ड़ा जारी कर 23 अप्रैल को बोर्ड़ बैठक रखी गई है।

mewar kiran news

अध्यक्ष सहित 14 पार्षदो के दबाव के बाद ईओ ने जारी किया बोर्ड़ बैठक का एजेण्ड़ा नगरपालिका अध्यक्ष हेमंत कुमार तेली ने बताया की उनके निर्वाचन के बाद से अब तक अधिषाषी अधिकारी भीण्ड़र मुबारिक हुसैन मंसुरी को 7 बार दुरभाष पर तथा 3 बार लिखित पत्र जारी किया गया है जिसमें अध्यक्ष , उपाध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष तथा पार्षदो के भी हस्ताक्षर है। नगरपालिका की साधारण सभा नही होने के कारण कई विकास के कार्यो को करने में समस्याए आ रही है जिसको लेकर अधिषाषाी अधिकारी भीण्ड़र को कई बार अवगत भी कराया गया है लेकिन किसी राजनेता के दबाव में आकर वो नगर विकास में बाधा बनते हुए पालिका कार्यालय मे भी नही आते है तथा सारे कार्य घर भी निपटा देते है और बोर्ड़ बैठक नही बुलाने के पीछे उनकी तथा उन पर वृहद हस्त रखने वाले राजनैताओ की मंषा है कि पुर्व बोर्ड मे हुए जमीन घोटालो तथा स्टोर व कोटेषन के माध्यम से हुई खरीददारीयो व भष्ट्राचार के मामले आम जनता के सामने नही आ जाये इसी ड़र में बोर्ड बैठक नही होने दी जा रही है।

तेली ने मिड़िया को बताया की गुरुवार को भी अधिषाषी अधिकारी भीण्डर के नाम एक पत्र बोर्ड़ बैठक बुलाने के लिये लिखा गया है जिसमें अध्यक्ष हेमंत कुमार तेली , उपाध्यक्ष गिरिष सोनी , नेता प्रतिपक्ष श्याम सुन्दर साहु, पुर्व पालिका उपाध्यक्ष एंव पार्षद एजाज शेख, पार्षद नारायण व्यास, गौरव जैन, रेणु लक्ष्कार, कुसुमलता आमेटा, मीना कुंवर, उकार लाल मीणा, गायत्री सोनी, राजेन्द्र वेणावत, देवकन्या मेहता, शोयब बोहरा, मोहन लाल अहीर के हस्ताक्षर है। पत्र में लिखा गया है कि अगर सात दिवस में नगरपालिका की साधारण सभा की बैठक का एजेण्ड़ा जारी नही किया गया तो बोर्ड़ सदस्यो के साथ मै स्वंय भी पालिका कार्यालय के बाहर मुख्य दरवाजे पर अनिष्चितकाल के लिये धरना प्रदर्षन की चेतावनी दी साथ ही कहा की उक्त बिन्दुओ के अनुसार बैठक का एजेण्ड़ा जारी किया जावे ताकि नगरविकास के मसलो पर चर्चा एंव विचार विमर्ष किया जा सके।

अध्यक्ष सहित बोर्ड सदस्यो द्वारा पत्र के साथ बजट वर्ष 2018-19 पर चर्चा एंव पारित करना, दवेला तालाब एंव गम्भीर सागर के चोरो और रिंग रोड़ बनवाने पर विचार विमर्ष, स्वच्छ भारत मिषन के अर्न्तगत दो ऑटो खरीदने पर विचार विमर्ष, तालाबो की सफाई पर चर्चा, अस्थाई कर्मचारीयो की मांग अनुसार वेतन बढोतरी पर विचार विमर्ष, दाल मिल के भु उपयोग परिवर्तन की पत्रावलियो पर चर्चा एंव मौका मुआयना पर विचार विमर्ष, खसरा नम्बर 42 के पट्टो पर चर्चा एंव मौका मुआयना पर विचार विमर्ष, खसरा नम्बर 79 की राजस्व विभाग द्वारा सीमा जानकारी पर विचार विमर्ष, अतिक्रमण पर चर्चा के मुद्दो को लेकर एजेण्ड़ा जारी कर बोर्ड बैठक बुलाने के लिये मैनेस्वय तथा मेरे साथी 14 पार्षदो द्वारा पत्र लिखा था जिस पर आराजी 79 व आराजी 42 के बिन्दु को कोर्ट का हवाला देते हुए ईओ ने हटाते हुए बैठक का एजेण्ड़ा जारी करने के लिए कहा । जिस पर गुरुवार को मैने पुनः पत्र लिख कर उक्त दोनो मामलो को बोर्ड बैठक में जोड़कर उक्त मामलो पर क्या कार्यवाही हुई जिस पर चर्चा एंव विचार विमर्ष करने के लिये जोड़ कर बैठक का एजेण्ड़ा जारी करने की बात कही जिस पर बैठक एजेण्ड़ा निकाला गया तथा अब 23 अप्रैल को बोर्ड़ बैठक होगी जिसमें एजेण्ड़ा अनुसार 11 बिन्दुओ पर चर्चा एंव विचार विमर्ष होगा।