क्या इस बार मेवाड़ की बड़ी सादड़ी सीट पर वापसी कर पाएगी कांग्रेस ?

साल 2013 विधानसभा चुनाव से पहले बड़ी सादड़ी विधानसभा सीट पर कांग्रेस का लगातार दो बार कब्जा रहा, जिसे 2013 में बीजेपी ने झटक लिया था। कांग्रेस को उम्मीद है कि 5 साल बाद फिर वह इस सीट पर कब्जा जमाने में कामयाब हो सकती है।

बड़ी सादड़ी राजमहल

बड़ी सादड़ी राजमहल

मध्यकालीन भारतीय इतिहास मेवाड़ साम्राज्य के बलिदान और वीरगाथाओं के लिए प्रसिद्ध है। मेवाड़ के गौरवशाली इतिहास के पीछे उसके राष्ट्रभक्त सरदारों, राव-उमरावों, ठिकानेदार योद्धाओं का प्रमुख योगदान रहा है। ऐसे ही मेवाड़ का एक ठिकाना है बड़ी सादड़ी, जहां के झालाओं ने मेवाड़ के लिए प्राणों की आहूति दी। पीढ़ी दर पीढ़ी मेवाड़ साम्राज्य के लिए आत्म बलिदान के कारण बड़ी सादड़ी के झालाओं को राजराणा की उपाधि प्रदान की गई।

यह भी पढ़ें – बड़ीसादड़ी विधानसभा सीट की सियासत पर एक नजर – अरुण कंठालिया (जाने माने वरिष्ठ पत्रकार -बड़ीसादड़ी )

आजादी के बाद राजतंत्र खत्म हुआ और लोकतंत्र की स्थापना हुई, मेवाड़ का राजपूताना, राजस्थान बन गया और मेवाड़ की शक्ति का केंद्र उदयपुर हो गया, लेकिन चित्तौड़गढ़ का मान उसी तरह बरकरार रहा।

चित्तौड़गढ़ जिला बना तो मेवाड़ साम्राज्य के महत्वपूर्ण ठिकानों में से एक बड़ी सादड़ी को विधानसभा क्षेत्र बना दिया गया। यही वजह है कि बड़ी सादड़ी को सत्ता शिखर पर बैठे सियासतदां कभी नहीं भूलते।

यह भी पढ़ें – बड़ीसादड़ी क्षेत्र की लोकल खबरे मोबाइल पे पढ़ने के लिए डाउनलोड करे मेवाड़ किरण एप्प – प्ले स्टोर (Play Store)

चित्तौड़गढ़ जिले की 5 विधानसभा सीटों में से एक बड़ी सादड़ी विधानसभा क्षेत्र संख्या 171 सामान्य वर्ग की सीट है। 2011 की जनगणना के अनुसार बड़ी सादड़ी विधानसभा की आबादी 3,53,243 है जिसका 95.55 प्रतिशत हिस्सा ग्रामीण और 4.45 प्रतिशत हिस्सा शहरी है। वहीं कुल आबादी का 32.76 फीसदी अनुसूचित जनजाति और 11.22 फीसदी आबादी अनुसूचित जाति है। किसान बहुल क्षेत्र होते हुए भी बड़ी सादड़ी में जैन और माहेश्वरी समाज की निर्णायक भूमिका है।

2017 की वोटर लिस्ट के मुताबिक बड़ी सादड़ी में कुल मतदाताओं की संख्या 2,39,012 है और 300 पोलिंग बूथ हैं। 2013 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर 79.45 फीसदी मतदान हुआ था, जबकि 2014 लोकसभा चुनाव में 63.17 फीसदी मतदान हुआ था।

यह भी पढ़ें – बड़ीसादड़ी विधानसभा सीट की सियासत पर एक नजर – अरुण कंठालिया (जाने माने वरिष्ठ पत्रकार -बड़ीसादड़ी )

2013 विधानसभा चुनाव का परिणाम
साल 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के गौतम कुमार ने पिछले दो बार के कांग्रेस विधायक प्रकाश चंद चौधरी को 17261 मतों से पराजित किया। बीजेपी के गौतम कुमार को 90,161 और कांग्रेस के प्रकाश चंद चौधरी को 72,900 वोट मिले थे।

2008 विधानसभा चुनाव का परिणाम
साल 2008 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के प्रकाश चंद चौधरी नें बीजेपी के भेरू सिंह चौहान को 26,589 मतों से शिकस्त दी। कांग्रेस के प्रकाश चंद चौधरी को 80,402 और बीजेपी के भेरू सिंह चौहान को 53,813 वोट मिले थे।

 

लेखक – विवेक पाठक 

यह भी पढ़ें – बड़ीसादड़ी विधानसभा सीट की सियासत पर एक नजर – अरुण कंठालिया (जाने माने वरिष्ठ पत्रकार -बड़ीसादड़ी )

इस लेख में लेखक ने अपने निजी विचार व्यक्त किए हैं। ये जरूरी नहीं कि मेवाड़ किरण (www.mewarkiran.com) उनसे सहमत हो। इस लेख से जुड़े सभी दावे या आपत्ति के लिए सिर्फ लेखक ही जिम्मेदार है।