सिंचाई के लिए रखा गया 850 करोड़ का प्रस्ताव ….

मंदसौर – रतलाम में राज्य योजना आयोग उपाध्यक्ष चैतन्य काश्यप के साथ मंदसौर, रतलाम और नीमच जिले के अधिकारियों की बैठक हुई। कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव ने वर्ष 2018-19 के लिए जिले के 37 विभागों के लिए 1369 करोड़ का प्रस्ताव रखा। इसके एवज में समिति ने 1398.13 करोड़ की अनुशंसा की है। अगले वर्ष जिले का पूरा ध्यान सिंचाई पर ही रहेगा। इसके लिए 850 करोड़ रुपए का प्रस्ताव रखा गया है। इस सिंचाई योजना में गांधीसागर से पूरे जिले को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध करवाया जाएगा। साथ ही राज्य शिक्षा केंद्र, स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य विभागों को भी बड़ा बजट आवंटित किया गया है।

मंगलवार को रतलाम में राज्य योजना आयोग की बैठक मंदसौर कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव ने जिले के 37 विभागों की योजनाओं के लिए 1369 करोड़ की मांग की थी। यह वर्तमान वित्तीय वर्ष में स्वीकृत हुई राशि से चार गुना ज्यादा है। पिछले साल राज्य योजना आयोग ने जिले के लिए लगभग 350 करोड़ रुपए स्वीकृत किए थे। इस राज्य योजना आयोग ने उम्मीद से ज्यादा जिले को 1398.13 करोड़ रुपए की अनुशंसा की। समिति ने आगामी वित्तीय वर्ष किसानों के नाम करते हुए पूरे जिले की सिंचाई योजना के लिए 850 करोड़ रुपए रखे हैं। कलेक्टर श्रीवास्तव ने जिले में कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन और दुग्ध उत्पादन के लिए किए गए नवाचारों की जानकारी भी योजना समिति को दी।

स्वास्थ्य विभाग को

मिले 20.50 करोड़

स्वास्थ्य विभाग ने जिला अस्पताल में ट्रामा सेंटर, मेटरनिटी विंग, बाउंड्रीवॉल सहित अचंल में उप स्वास्थ्य केंद्र निर्माण व सुवासरा, पावटी, बूढ़ा स्वास्थ्य केंद्र में बाउंड्रीवॉल के लिए 20.50 करोड़ रुपए का प्रस्ताव रखा।

पुलिस कर्मचारियों के

लिए मांगी सुविधा

एसपी मनोज कुमार सिंह ने राज्य योजना आयोग में पुलिस लाइन में बाउंड्रीवॉल, बायपास स्थित नवीन पुलिस कॉलोनी में सड़कें, बाउंड्रीवॉल, एसएएफ की कंपनी के लिए बैरल सहित पुलिसकर्मियों की मूलभूत सुविधाओं के लिए लगभग 25 करोड़ का प्रस्ताव प्रस्तुत किया।

सभी तहसीलों में पहुंचेगा

गांधीसागर का पानी

जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री बीएल निनामा ने बताया कि गांधीसागर जलाशय से भानपुरा, गरोठ, शामगढ़, सुवासरा, सीतामऊ, मल्हारगढ़ व मंदसौर क्षेत्र तक सिंचाई के लिए किसानों को पानी उपलब्ध कराने के लिए 850 करोड़ की योजना प्रस्तुत की थी। इसके साथ ही नीमच जिले के रामपुरा क्षेत्र की सिंचाई योजना के लिए करीब 150 करोड़ की योजना प्रस्तुत की है।

24 एमडीएस-73

केप्शनः ओपी श्रीवास्तव

रतलाम में हुई राज्य योजना आयोग समिति के सामने जिले के 37 विभागों की वित्तीय वर्ष 2018-19 की योजनाओं के लिए हमने गत वर्ष से चार गुना अधिक 1369 करोड़ की मांग की थी। इसके बदले में समिति ने 1398.13 करोड़ रुपए की अनुशंसा कर दी है। सर्वाधिक 850 करोड़ रुपए सिंचाई के लिए प्रस्तावित किए गए हैं। अब यह प्रस्ताव मुख्यमंत्री के सामने रखे जाएंगे उनके अनुमोदन के बाद प्रस्ताव वित्तीय मंत्रालय को भेजे जाएंगे।

-ओपी श्रीवास्तव, कलेक्टर।

व्हाट्सएप्प (WhatsApp) पर शेयर करें