28 प्रतिशत कर रहे ई-पेमेंट से बिजली बिल का भुगतान

नीमच। ऑनलाइन बिल भुगतान करने वाले उपभोक्ताओं का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। जिले में ऑनलाइन बिल भुगतान करने वालों का आंकड़ा महज 28 प्रतिशत है। एेसे में कहा जा सकता है कि दिन ब दिन ऑनलाइन बिल पैमेंट के भुगतान में उपभोक्ताओं की संख्या में इजाफा हो रहा है।

 

नोटबंदी के बाद जिले में ऑनलाइन बिजली बिल भुगतान करने वाले उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ी थी। नियामक आयोग एेसे घरेलू उपभोक्ताओं को पांच से लेकर २० रुपए तक की छूट भी देता है।वित्तीय वर्ष २०१६-१७ में करीब ११ प्रतिशत उपभोक्ताओं ने ऑनलाइन बिल जमा किए थे। वित्तीय वर्ष २०१८-१९ में करीब १४ प्रतिशत उपभोक्ताओं ने ऑनलाइन बिजली बिल जमा किए हैंं , जबकि वर्ष २०१८-१९ में करीब २८ प्रतिशत उपभोक्ताओं ने ऑनलाइन बिल जमा किए है।

जिले में ऑनलाइन भुगतान का आंकड़ा
महीना ————उपभोक्ता————–ऑनलाइन बिल भुगतान
दिसंबर २०१९——६१२७५—————-४४१ लाख रुपए
जनवरी २०२०——६९२६८—————-४६१ लाख रुपए
फरवरी २०२०——७००३३—————–४६२ लाख रुपए

नहीं लिया जा रहा है अतिरिक्त चार्ज
ऑनलाइन बिल जमा करने में जहां कियोस्क सेंटर्स की ओर से अतिरिक्त चार्ज नहीं लिया जा रहा है। विभिन्न मोबाइल एप्लीकेशन के जरिए उपभोक्ताओं को कैशबैंक का ऑफर मिल रहा है, यही कारण है कि इसका ग्राफ लगातार बढ़ रहा है।

ऑनलाइन के लिए इन माध्यमों का उपयोग
जिले में ऑनलाइन बिल भुगतान की राशि में दिन ब दिन बढ़ोत्तरी हो रही है। बाजार में मोबाइल एेप, नेट बैकिंग, पीओएस मशीन, भीम एेप, पेटीएम, मोबीक्विक, स्मार्ट बिजली एेप समेत अन्य मोबाइल एप्लीकेशन बाजार में उपलब्ध है, जिनके माध्यम से आसानी से ऑनलाइन बिजली बिल का भुगतान किया जा सकता है।
– आरके नायर, अधीक्षण यंत्री, मप्र विद्युत वितरण कंपनी नीमच।