ज्यादती के आरोपित को 10 साल 6 माह का कारावास

mewar kiran news
नीमच। ज्यादती के एक आरोपित को माननीय न्यायालय ने 10 साल 6 माह के कारावास की सजा सुनाई है। उस पर अर्थदंड भी कि या है। विशेष लोक अभियोजन के पीएस झाला ने बताया कि यह फै सला एससी-एसटी एक्ट के विशेष न्यायाधीश आरपी शर्मा के न्यायालय ने सुनाया। घटना 2013 की है। हायर सेकंडरी की परीक्षा देने के लिए एक छात्रा नीमच आती थी।

इसी दौरान आरोपित अठाना के अनवर अली उर्फ भाया पिता मुबारिक ने बहला-फु सलाकर उससे ज्यादती की। आरोपित ने छात्रा को चित्तौड़गढ़ और जावरा ले जाकर घटना को अंजाम दिया। इस मामले में पुलिस ने आरोपित के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट और अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कि या। न्यायालय ने विचारण के बाद अभियोजन पक्ष के तर्क से सहमत होकर आरोपति को दोष सिद्ध पाया। माननीय न्यायाधीश ने आरोपित को 10 साल 6 माह के कारावास की सजा के साथ 11 हजार रुपए का अर्थदंड भी कि या। आरोपित को जिला जेल कनावटी भेजा गया।