चित्तौड़गढ़ -सैनिक स्कूल के 27 छात्रों का एनडीए में चयन, सितंबर में दी थी 48 छात्रों ने परीक्षा

 

चित्तौड़गढ़। यहां स्थित राज्य के एकमात्र सैनिक स्कूल के कक्षा 12वीं में अध्ययनरत 27 छात्रों का बुधवार शाम राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) मैं प्रशिक्षण के लिए आए परिणाम में चयन हुआ। सैनिक स्कूल प्रबंधन के अनुसार लंबे अरसे बाद एक साथ इतने बच्चों का चयन एनडीए में हुआ है। देश के थल सेनाध्यक्ष दलबीर सिंह सुहाग सहित सेना के कई बड़े अधिकारी इसी सैनिक स्कूल में पढ़े हैं।

सैनिक स्कूल के प्रिंसिपल कर्नल राजेश राघव ने बताया कि इस बार 48 बच्चों ने यूपीएससी की ओर से आयोजित एनडीए की परीक्षा में भाग लिया था। इसमें से 27 बच्चे उत्तीर्ण हुए स्कूल के रजिस्ट्रार मुझे संजय चौधरी व हैड मास्टर लेफ्टिनेंट कर्नल अभिषेक झा ने बताया कि इससे पहले वर्ष 2016 तथा वर्ष 2015 में तीन-तीन बच्चों का चयन हुआ था एनडीए में इतनी बड़ी संख्या में चयन होने पर सैनिक स्कूल में हर्ष का माहौल है।

इनका हुआ चयन
एनडीए की परीक्षा में उत्कर्ष चाहर, प्रियांशु फौजदार, शुभम कुमार, हर्षल कुलथिया, युगल शिवा, यशु, अजय काजला, अजयकुमार अहारी, आयुष गुप्ता, अंकित मेघवाल, रजत गोदारा, अंकित मान, अभिषेक डागुर, आदित्य स्वरूप, प्रवीणकुमार सेवदा, विक्रम सिंह, राजेंद्र सिंह, महेश टार्ड, दीपक शर्मा, मयंक, संदीप लील, शिवराज सिंह, मनीष कुमार, मोहित कलेर, संजय चौधरी, कमल सुखाड़िया व राहुल सिंह उत्तीर्ण हुए।

सैनिक स्कूल ने दिए कई सैन्य अधिकारी
राजस्थान का पहला व एकमात्र चित्तौड़गढ़ सैनिक स्कूल अपनी स्थापना सन् 1961 के बाद से अब तक देश को कई सैन्य अधिकारी दे चुका है। सेनाध्यक्ष दलबीरसिंह सुहाग सहित लेफ्टिनेंट जनरल मांधाता सिंह, केजे सिंह सहित कई अधिकारी चित्तौड़गढ़ सैनिक स्कूल में पढ़े हैं।

इनके अलावा अब तक कई ब्रिगेडियर, मेजर, कर्नल, लेफ्टिनेंट कर्नल, कमांडर आदि रैंक के अधिकारी इसी सैनिक स्कूल में पढ़े हैं। स्कूल के मौजूदा प्रिंसिपल कर्नल राजेश राघव पहले यहां हैड मास्टर रह चुके हैं, वहीं रजिस्ट्रार संजय चौधरी इसी स्कूल में पढ़े हैं।

16 साल पहले हुआ था 28 का चयन चित्तौड़गढ़ सैनिक स्कूल में इससे पहले वर्ष 2001 में 70 बच्चों ने एनडीए की परीक्षा दी थी। इनमें से 28 बच्चों का चयन हुआ था। सैनिक स्कूल को 16 साल बाद फिर से यह गौरव मिला है।

व्हाट्सएप्प (WhatsApp) पर शेयर करें