मीरा महोत्सव के लिए केंद्र सरकार ने ‌20 लाख रुपए स्वीकृत किए गए

चित्तौड़गढ़ | भारतसरकार के संस्कृति मंत्रालय ने वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए सांस्कृतिक समारोहों के आयोजन के लिए वित्तीय सहायता स्वीकृत करने की योजना के तहत चित्तौड़गढ़ में मीराबाई की स्मृति में मीरा महोत्सव के सांस्कृतिक समारोहों के आयोजन के लिए 20 लाख की वित्तीय सहायता स्वीकृत सांसद सीपी जोशी की अनुशंषा पर की गई है।

मीरा स्मृति संस्थान के अध्यक्ष एडवोकेट भंवरलाल शिशोदिया ने बताया कि मीरा महोत्सव चित्तौड़गढ़ को एक राष्ट्रीय सांस्कृतिक समारोह के रूप में आयोजित करने के उद्देश्य से भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय, नई दिल्ली को अपना आवेदन पत्र भिजवाकर वित्तीय सहायता स्वीकृत करने का प्रस्ताव भेजा था। सांसद सीपी जोशी के प्रयास से ही चित्तौड़गढ़ के मीरा स्मृति संस्थान को यह सहायता स्वीकृति का आदेश जारी होकर प्रथम किश्त के रूप में 15 लाख लाख प्राप्त हो चुके है।

संस्थान के सचिव प्रो. सत्यनारायण समदानी ने बताया कि संस्कृति मन्त्रालय, भारत सरकार की कल्चरल फंक्शन एंड प्रोडक्शन ग्रांट स्कीम के अंतर्गत मीरा महोत्सव के सांस्कृतिक समारोह के कुल व्यय का 75 प्रतिशत केन्द्रीय सहायता से मिलता है तथा 25 प्रतिशत राशि संस्था को जनसहयोग से जुटानी होती है। संस्थान विगत अनेकों वर्षों से केन्द्र सरकार को सहायता के लिए अनुरोध करता रहा है, लेकिन इस वर्ष सांसद जोशी के प्रयासों से ही मीरा महोत्सव को राष्ट्रीय स्तर का समारोह मानकर केन्द्र सरकार की सहायता प्राप्त हो सकी है।

व्हाट्सएप्प (WhatsApp) पर शेयर करें