स्वाद ऐसा भाया कि प्रदर्शनी में जेब ढीली करने से अधिकारियों ने भी नहीं किया गुरेज

डॉ. सुशील कुमार सिंह/ उदयपुर. एमपीयूएटी के प्रोद्योगिकी एवं अभियांत्रिकी महाविद्यालय के प्लेसमेंट सेल में शनिवार को आयोजित लघु उद्योग भारती की रजत जंयती पर उदयपुर इकाई व महिला उद्यमी इकाई की ओर से तैयार उत्पादों को लेकर आकर्षक प्रदर्शनी लगी। बड़ी संख्या में खरीदारों ने लघु उद्योग निर्मित खाद्य पदार्थों एवं अन्य निर्माण की खरीदारी में उत्साह दिखाया। महाविद्यालय के प्रशासनिक ओहदेदार भी खरीदी में पीछे नहीं रहे। इस मौके पर जुटे विषय वक्ताओं एवं महाविद्यालय प्रशासन के बीच कम लागत में अधिक उत्पादन सहित मशीनरी के इस्तेमाल को लेकर खासा मंथन हुआ। इससे पहले कार्यक्रम का शुभारंभ लघु उद्योग भारती के राष्ट्रीय संघठन मंत्री प्रकाश अग्रवाल, अंकलेश्वर के उद्योगपति बलदेव प्रजापति, प्रदेश अध्यक्ष ताराचन्द गोयल, चित्तौड़ प्रान्त अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार शर्मा, उदयपुर इकाई अध्यक्ष महेंद्र मांडावत, महिला इकाई अध्यक्ष रीना राठौड़ तथा महाविद्यालय डीन डॉ. अजय शर्मा ने भारत माता के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलन कर किया।
एक टैक्स एक ऑडिट की मांग
संगठन के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य गोविन्दराम मित्तल ने लघु उद्यमियों के सम्मेलन में बताया कि केंद्र सरकार की नीति एक देश एक टैक्स जीएसटी से व्यापारियों को लाभ मिल रहा है। उन्होंने जीएसटी की नीतियों में सरलीकरण करने की मांग की। उदयपुर विभाग अध्यक्ष महेंद्र मांडावत ने बताया कि उदयपुर इकाई के अब 100 से ज्यादा सदस्य हैं।सभी औद्योगिक क्षेत्रों में लघु उद्योग भारती की इकाई का गठन शीघ्र किया जाएगा। सम्मेलन में 25 महिला व पुरुष उद्यमियों ने सदस्यता ग्रहण की।संचालन पिंकी मांडावत ने किया।