सुप्रीम कोर्ट ने आरबीआई से व्हाट्सऐप के बारे में ये पूछा

मेवाड़ किरण @ नीमच -

फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी व्हाट्सऐप ने कुछ दिन पहले ही कहा है कि इस साल के अंत तक भारत में व्हाट्सएप की पेमेंट सेवा लॉन्च हो जाएगी। वहीं इसी बीच सुप्रीम कोर्ट ने रिजर्व बैंक को आदेश दिया है कि वह बताए कि व्हाट्सएप ने पेमेंट सर्विस का डाटा भारत में स्टोर करने के लिए नियमों का पालन किया है या नहीं। इसके लिए कोर्ट ने बैंक को छः सप्ताह का समय दिया है।
व्हाट्सऐप पिछले एक साल से भारत में यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) पेमेंट की टेस्टिंग कर रहा है। व्हाट्सएप के लिए भारत बहुत बड़ा बाजार भी है, क्योंकि भारत में इसके करीब 40 करोड़ यूजर हैं, लेकिन पेमेंट डाटा को भारत में भी स्टोर करने को लेकर बवाल चल रहा है और इसलिए व्हाट्सएप की पेमेंट सर्विस की लॉन्चिंग में देरी हो रही है। बता दें कि पिछले साल ही रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने सभी विदेशी कंपनियों से पेमेंट संबंधित डाटा को भारत में स्टोर करने को कहा था।
गौरतलब है कि पिछले साल सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल हुई थी जिसमें व्हाट्सएप पर आरोप लगाते हुए कहा गया था कि व्हाट्सएप की पेमेंट सर्विस में डाटा के स्थानीयकरण नियमों का पालन नहीं किया गया है। इसी याचिका पर सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने 6 सप्ताह में स्थिति को स्पष्ट करने का आदेश दिया है, हालांकि इस मामले पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और व्हाट्सएप ने अभी कोई बयान नहीं दिया है।

Source : Apna Neemuch