सीतामऊ में तीन घंटे की आमजनों की दी छूट

मंदसौर
सीतामऊ में गत दिवस पथराव और लाठीचार्ज के बाद कलेक्टर द्वारा १४४ लागू की गई थी। बुधवार को प्रशासन ने तीन घंटे की छूट दी जिसमें आमजन ने आवश्यक सामाग्री खरीदी। इससे पहले मंगलवार को भी नगर में जगह-जगह पुलिस बल तैनात रहा। और सीतामऊ पूरी तरह बंद रहा। अतिआवश्यक सुविधाओं को छोड़ किसी भी व्यक्ति को घर से बाहर नहीं आने दिया। कलेक्टर मनेाज पुष्प और पुलिस अधीक्षक ने बल के साथ फ्लेग भी मार्च निकाला। वहीं दूसरी ओर दोनों पक्षों से करीब १५-१५ लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है। और चिह्ंित कर गिरफ्तारी की जा रही है। सीतामऊ में एहतियातन तौर पर दो दिन स्कूलों के अवकाश भी घोषित कर दिए है।
दूध, सब्जी के लिए परेशान आमजन
नगर में एहतियातन तौर पर करीब साढ़े तीन सौ से अधिक फोर्स तैनात किया गया है। इसमें रिर्जव बल, आरएएफ, एसएफ और पुलिस अधिकारियों से लेकर जवान तक शामिल है। आम नागरिकों को दूध और सब्जी के लिए परेशान होना पड़ा। सभी ने अपने-अपने प्रयासों से जरूरी सामग्री जुटाई। ग्रामीण क्षेत्रों से दूध देने के लिए आने वाले दूध लेकर ही नहीं पहुंचे। मेडिकल सहित अतिआवश्यक सुविधाएं चालू रही।
दो दिनों के लिए स्कूलों के अवकाश
कलेक्टर मनोज पुष्प के निर्देश पर जिला शिक्षा अधिकारी आरएल कारपेंटर ने सीतामऊ में दो दिनों के लिए समस्त स्कूलों का अवकाश घोषित कर दिया है। घोषित अवकाश में बुधवार और गुरुवार के लिए आदेश जारी किया गया है। कलेक्टर मनोज पुष्प और पुलिस अधीक्षक हितेश चौधरी सीतामऊ में जमे हुए है। वहां पर हर आधे घंटे में नगर की पूरी जानकारी ले रहे है। और समय-समय पर नगर भ्रमण कर रहे है।
३० लोगों के खिलाफ किया मामला दर्ज
गत दिवस हुए पथराव के बाद सीतामऊ पुलिस ने करीब ३० लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस द्वारा लोगों को चिह्ंित कर कार्रवाई की जा रही है। कलेक्टर मनोज पुष्प एवं पुलिस अधीक्षक हितेश चौधरी ने जनता से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील भी की है। सीतामऊ के कुछ वरिष्ठजनों के अनुसार कही ना कही शुरुआती दौर में पुलिस-प्रशासनिक अमले की चूक रही है।
इनका कहना...
पुलिस अधीक्षक हितेश चौधरी ने कहा कि दोनों पक्षों से करीब १५-१५ लोगों के खिलाफ
विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है। सीतामऊ में पूर्णत: शांति है।
कलेक्टर मनेाज पुष्प ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है। नगर में पूर्णत शांति है।