सामुहिक विवाह सम्मेलन में 31 जोड़े परिणय सूत्र में बंधेगें

मेवाड़ किरण @ नीमच -

समय परिश्रम एवं धन की बचत के उद्देष्य से अखिल भारतीय वाल्मीकी महासभा नीमच एवं वाल्मीकी समाज नीमच जिला के संयुक्त तत्वाधान में विवाह योग्य युवक-युवतियों का सामुहिक विवाह सम्मेलन 17 फरवरी 2019 को प्रस्तावित कार्यक्रम की कार्य योजना को लेकर एक आवष्यक बैठक आज षाम 4 बजे सब्जी मण्डी के अन्दर दुकान नं. 6, स्थित सामुहिक विवाह कार्यालय पर आयोजित की गयी। सम्मेलन के लिये अभी तक 31 जोड़ो का पंजीयन हो चुका है इसके लिये कार्ययोजना बनाई गयी। साथ ही बैठक के बाद कल बुधवार 13 फरवरी को चौपड़ा गणेष मंदिर पर पहूंचकर गणेषजी को विवाह कुमकुम पत्रिका के द्वारा पीले चांवल प्रदानकर आमंत्रण देने की परम्परा का निर्वाहन दीप प्रज्जवलित कर किया जायेगा। विवाह योग्य युवक-युवतियों के परिजन विवाह के सम्बंध में समिति पदाधिकारियों एवं समाजजनों से सम्पर्क कर सकते है। सम्मेलन में विधवा, विदूर, परित्यागता एवं विकलांग असहाय आदि विवाह योग्य युवक-युवतियों का विवाह भी किया जायेगा। सम्मेलन में सामाजिक बुराईयों को दुर करने एवं भावी युवा पीढी को अच्छी षिक्षा संस्कार देने आदि सामाजिक विशयों पर विषेश कार्यक्रम आयोजित किया जायेगें। बैठक में बताया कि सामुहिक विवाह सम्मेलन को अंतिम रूप देने के लिये विचार विमर्ष किया गया। विवाह योग्य युवक-युवतियों की बिंदोली 17 फरवरी को बंगला नं. 60, पुरानी नगरपालिका नीमच स्थित सामुहिक विवाह पांडाल से प्रारम्भ होगी जो नगर के विजय टाकिज चौराहा, कमल चौक, फव्वारा चौक, बारादरी चौराहा, नया बाजार, विहारगंज चौराहा, बजरंग चौक, श्रीराम चौक, घंटाघर, जाजू बिल्डिंग, ज्ञान मंदिर महाविद्यालय होते हुए पुनः पुरानी नगरपालिका बंगला नं. 60 स्थित सामुहिक विवाह यज्ञ मंडप में पहूंचकर सामुहिक विवाह सम्मेलन में परिवर्तित हो जायेगी। बिंदोली में 31 घोडिया, 7 षाही बग्गिया, बैण्डबाजे, मंदसौरी ढोल प्रमुख आकर्शण होगें। साथ ही समाज की महिलाऐं अमृत मंगल कलष सिरोधार्य कर सहभागी बनेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से देषभर में चल रहे स्वच्छता अभियान का आर्दष संदेष भी बिंदोली में दिया जायेगा। समाज के युवक-युवतियों का विवाह गायत्री षक्ति पीठ के विद्ववान पण्डितों द्वारा वैद्विक परम्परा एवं मंत्रोच्चार के साथ करवाया जावेगा। विवाह योग्य वर को कोट, पेंट, षर्ट, टाई, साफा तथा वधु को बेस, नाक कांटा, सोने के कान के टाप्स, चांदी के पायजेब, अंगूठी, बिछिया, बर्तन, अलमारी, बिस्तर आदि उपहार सामग्री सामुहिक विवाह में समिति द्वारा प्रदान की जायेगी। सम्मेलन में राजस्थान, मध्यप्रदेष, गुजरात, मंदसौर, नीमच जिले के युवक-युवतियों के जोड़ों का पंजीयन होने की जानकारी दी गई है। सम्मेलन में राश्ट्रीय सफाई मजदूर संघ आयोग के सदस्य मण्डलेष्वर सदानंद महाराज, अखिल भारतीय वाल्मीकी महासभा के राश्ट्रीय अध्यक्ष डा. जी.एस. विष्नार, राश्ट्रीय सचिव जीवन गौसर, राश्ट्रीय प्रदेषाध्यक्ष ओ.पी. गोदिया आदि अतिथियों का मार्गदर्षन मिलेगा। बैठक में संयुक्त सचिव उमेष कल्याणी, प्रदेष उपाध्यक्ष रमेषचंद्र कण्डारा, राश्ट्रीय कार्यकारी सदस्य जगदीषचंद्र कोड़ावत, विवाह समिति नीमच संरक्षक राजेष घारू, विवाह समिति अध्यक्ष रामुराम डागर, उपाध्यक्ष ष्याम सरसवाल, सचिव ष्यामषरण पथरोड़, सहसचिव जे.एस. संगत, गोपाल नरवाले, मिडिया प्रभारी अजय बारसे, कानूनी सलाहकार एड़ षषि कुमार कल्याणी, स्वागत समिति प्रभारी प्रेमचन्द्र कलोसिया सहित बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे।

Source : Apna Neemuch