समस्याओं का हाथों-हाथ समाधान, मिला सरकारी योजनाओं का लाभ

चित्तौडग़ढ़. जिला कलक्टर शिवांगी स्वर्णकार की निम्बाहेड़ा पंचायत समिति अन्तर्गत कोटड़ी कलां के राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय प्रांगण में रात्रि चौपाल आयोजित हुई।
ग्रामीणों ने विभिन्न विभागों की सरकारी योजनाओं व कार्यक्रमों तथा इनसे लाभ पाने की सरल और सहज प्रक्रिया की जानकारी पाने के साथ ही अपनी विभिन्न समस्याओं के हाथों-हाथ समाधान का सुकून भी पाया। चौपाल में अतिरिक्त कलक्टर मुकेश कुमार कलाल, जिला रसद अधिकारी ज्ञानमल खटीक, उपखण्ड अधिकारी, पुलिस उपाधीक्षक, तहसीलदार, विकास अधिकारी, सरपंच कैलाश साहू, समाजसेवी पुरुषोत्तम झंवरए गोपाल आंजना सहित क्षेत्रीय जन प्रतिनिधिगण, विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कार्मिक और ग्रामीण उपस्थित थे।
ग्रामीण विकास के लिए इन विषयों पर किया आग्रह
जिला कलक्टर ने ग्रामीणों की समस्याओं को सुना तथा इनके समाधान की कार्यवाही के निर्देश दिए। इस दौरान खासकर घर के पास अवस्थित बिजली ट्रांसफार्मर हटाने, गांव में पानी भराव की समस्या दूर करने, गांव में रोडवेज की बसों का ठहराव सुनिश्चित करने, सरलाई की स्कूल को क्रमोन्नत करने, पशु चिकित्सा सुविधा के लिए उप केन्द्र खोलने, स्कूल मैदान में पौधारोपण, बैरागी समाज के लिए समाधि स्थल के लिए भूमि उपलब्ध कराने आदि की मांगों भरे प्रार्थना पत्र ग्रामीणों ने सौंपे। इन पर जिला कलक्टर ने संबंधित अधिकारियों को बुलाकर वस्तुस्थिति की जानकारी ली तथा समस्या समाधान के निर्देश दिए और विभिन्न कार्यों के प्रस्ताव तैयार करने को कहा।
सरकारी योजनाओं का लाभ लेने आगे आएं
जिला कलक्टर शिवांगी स्वर्णकार ने चौपाल में बड़ी संख्या में उपस्थित ग्रामीण महिला-पुरुषों की मौजूदगी पर प्रसन्नता जाहिर की और इसे ग्राम्य जागरुकता का उदाहरण बताते हुए ग्रामीणों से कहा कि वे अपने भले तथा ग्रामीण विकास के लिए सरकार द्वारा संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों का पूरा-पूरा लाभ लेने के लिए जागरुक होकर आगे आएं तथा ग्राम्य खुशहाली के विस्तार में भागीदारी निभाएं। जिला कलक्टर ने विभिन्न विभागों की ओर से स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत चेक, जॉब कार्ड, पट्टे, कृषि यंत्र, विभिन्न प्रमाण पत्र आदि का वितरण ग्रामीणों को किया। विभिन्न विभागों के अधिकारियोंं ने अपने-अपने विभाग की जनकल्याण योजनाओं और कार्यक्रमों के बारे में ग्रामीणों को समझाया तथा इनका लाभ पाने के लिए अपील की। चौपाल का संचालन करते हुए जिला रसद अधिकारी ज्ञानमल खटीक ने ग्रामीणों को तमाम विभागों की गतिविधियों का परिचय कराया। चौपाल में ग्रामीणों की ओर से जन प्रतिनिधियों एवं ग्रामीण प्रतिनिधियों ने जिला कलक्टर का पुष्पहार पहना व शॉल ओढ़ाकर स्वागत किया।
मांगीलाल को चन्द मिनटों में मिली व्हील चेयर
रात्रि चौपाल में सरलाई गांव के रहने वाले एक पाँव से विकलांग ग्रामीण मांगीलाल ने उपस्थित होकर जिला कलक्टर से व्हील चेयर दिलाने का आग्रह किया। इस पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभागीय अधिकारी को बुलाकर जानकारी ली गई। हाथों हाथ आवेदन भरवाया गया और चन्द मिनटों में सारी औपचारिकताओं की पूर्ति कर मांगीलाल को व्हील चेयर दी गई।