सगाई समारोह में जा रहे युवकों की दूसरे पक्ष से विवाद, फायरिंग और चाकूबाजी में युवक घायल, इलाके में सनसनी

fiसवाड़ा।

जिले के कोतवाली थाना इलाके की इन्द्रा कॉलोनी में रविवार की रात चाकूबाजी और फायरिंग हो गई, जिसमें एक युवक घायल हो गया, जिसे महात्मा गांधी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। वारदात के बाद हमलावर फरार हो गए। पुलिस ने वारदात के पीछे पुरानी रंजिश बताया है। वारदात को लेकर पांच जनों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। इसके साथ ही घायल की कुशलक्षेम पूछने वालों का अस्पताल परिसर में तांता लग गया। बाद में पुलिस ने भीड़ को वार्ड से बाहर किया।

सगाई समारोह के लिए जा रहे थे परिवार के लोग
वारदात रात करीब साढ़ नौ बजे उस समय हुई जब एक सगाई समारोह के लिए एक परिवार के लोग शहर के भीतरी इलाके से बैंडबाजे के साथ इन्द्रा कॉलोनी जा रहे थे। रास्ते में किसी बात पर कुछ युवकों में आपस में भिड़ंत हुई, जो देखते-देखते चाकूबाजी और फायरिंग में बदल गई।

चाकू से पीठ पर गहरा घाव
वारदात में राजतालाब इन्द्रा कॉलोनी निवासी लक्की उर्फ साहिल पुत्र फिरोज पीपा घायल हो गया। चिकित्सकों ने उसकी तबीयत में सुधार बताया है। चाकू से उसे पीठ पर एक गहरा घाव हुआ है और दो-तीन जगह खरोंचे आई हैं।

पांच जनों के खिलाफ प्रकरण रिपोर्ट
इधर कोतवाली थाना प्रभारी देवीलाल ने बताया कि इन्द्रा कॉलोनी निवासी तबस्सुम ने शहर के मकबूल, बिलाल, आरिफ, वकील एवं तेरसिंह के खिलाफ हमले की रिपोर्ट दी है। रिपोर्ट के मुताबिक बिलाल, मकबूल सहित अन्य एक सगाई के कार्यक्रम में जा रहे थे। तभी इन दोनों की लक्की के साथ बड़ के पेड़ के पास किसी बात को लेकर हल्की कहासुनी हुई। इसके बाद से लक्की एवं उसके साथियों ने बिलाल व मकबूल का पीछा करना शुरू कर दिया। इन्द्रा कॉलोनी की एक गली के पास पहुंचते ही बिलाल ने लक्की और उसके साथियों को डराने के लिए पिस्तौल निकाली और एक फायर किया। इसके बाद लक्की ने चाकू निकाला तो बिलाल उस पर टूट पड़ा और उसने लक्की के हाथ से चाकू छीनकर लक्की पर ही हमला कर दिया। इस छीना झपटी में चाकू लक्की के लग गया।

सीआई ने बताया कि इस वारदात में लक् की के साथ भी छह.सात जने थे जो वारदात के बाद कॉलेज रोड की तरफ निकल गए। वहीं बिलाल भी मौका पाकर वहां से भाग गया। उसके पीछे से उसके साथी भी वहां से भाग निकले। पुरानी रंजिश का अंदेशा वारदात की असली वजह पूर्व की रंजिश को माना जा रहा है। करीब सात माह पूर्व भी शहर में मदार कॉलोनी में फायरिंग की वारदात हुई थी। इसमें लक्की का पिता फिरोज घायल हो गया था। इसमें मकबूल, बिलाल का नाम आया था। इसके बाद से दोनों पक्षों के मध्य रंजिश चलती आ रही है। संभवत इसी बात को लेकर रविवार की रात दोनों पक्षों के मध्य विवाद हुआ जिससे चाकूबाजी और फायरिंग की वारदात हो गई।

उल्लेखनीय है कि फिरोज पर मकबूल ने एक रिकॉर्डिंग के चलते फायरिंग की वारदात को अंजाम दिया था। शादी समारोह में पैदा हुआ विघ्र इस वारदात के बाद पास ही सगाई समारोह स्थल पर भगदड़ की स्थिति मच गई। कोई कुछ समझ नहीं पाया और परिवार में चीख पुकार मच गई। परिवार की महिलाएं डर गई औरचीखने लगी। इस बीच सूचना पर मौके पर कोतवाली से पुलिस का जाप्ता पहुंच गया, जहां से पुलिस एक जने को अपने साथ भी लेकर गई। इस वारदात के बाद से सगाई की खुशियों के बीच विघ्र पैदा हो गया।