संभाग में पहले स्थान पर आया नाहरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र


मंदसौर.
कायाकल्प अभियान के अंतर्गत प्राथमिक केंद्रों की सूची जारी हुई है। जिसमें मंदसौर जिले का नाहरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ने छठा स्थान पाया है। वहीं उज्जैन संभाग में नाहरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहले नंबर आया है। नाहरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को ८३ फीसदी नंबर मिले है। नाहरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को लगातार तीसरी बार कायाकल्प अभियान में टॉप टेन में आ रहा है।


एक साल में सुधारी व्यवस्था
जिले में 41 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र है। जिसमें सबसे बेहतर सुविधाएं नाहरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर है।गत साल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का कायाकल्प अभियान में ८१ फीसदी अंक दिए गए थे। और केंद्र को दो लाख रूपए की राशि मिली थी। इस साल व्यवस्थाओं में सुधार किया और नाहरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को ८३ अंक मिले है। आने वाले साल में दो ओर केंद्रों केा कायाकल्प के लिए तैयार किया जा रहा है।


एनक्यूएस के लिए तैयारियां शुरु
कायाकल्प अभियान में लगातार तीन सालों से बेहतर प्रदर्शन करने के बाद अधिकारियों की उम्मीद बढ़ गई है। अब इस प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का एनक्यूएस के मानकों के तहत स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए तैयारियां शुरु कर दी है। इसके लिए कुछ दिनों पहले भोपाल स्तर के अधिकारियों ने यहां पर निरीक्षण भी किया था। और कई तरह की कमियों को दूर करने के लिए भी लिखा था।


्रएनक्यूएस में दावेदारी करने वाला पहला केंद्र
जानकारी के अनुसार एनक्यूएस में भाग लेने वाला पहला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रदेश में नाहरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र है। यदि एनक्यूएस के मानकों पर खरा प्राथमिक स्वास्थ्य केद्र खरा उतरता हैतो प्रति बेड के अनुसार पांच लाख रूपए मिलेंगेे।प् यहां हर साल मिलेगें। जिससे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में और अधिक विकास होगा।


इनका कहना....
इस साल कायाकल्प अभियान में नाहरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को छठा स्थान मिला है। और संभाग में पहला स्थान है। एनक्यूएस के लिए तैयारियां शुरु कर दी है।