शहर में बढ़ी चोरियों की वारदातें, एसपी ने अपराध बैठक में दी हिदायत- रात्रिकालीन गश्त में चूक हुई तो होगी कड़ी कार्रवाई

बांसवाड़ा. त्योहारी सीजन निपटने के बाद बेहतर पुलिसिंग के लिए सोमवार को जिलेभर के पुलिस अधिकारियों की पुलिस अधीक्षक ने बैठक ली। जिले में चोरी की बढ़ती वारदातों से चिंतित एसपी ने तल्ख तेवर दिखाते साफ किया रात्रिकालीन एवं संध्याकालीन गश्त में चूक किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सीधे तौर पर कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने रात आठ बजे बाद शराब की बिक्री पर प्रतिबंध को सख्ती से लागू करने पर बल दिया। एसपी ने एक तिहाई थाने का जाप्ता गश्त में लगाने के निर्देश दिए जो ऐसे महत्वपूर्ण स्थानों पर तैनात रहेगा, जिससे अपराधियों में पुलिस के प्रति खौफ रहे। संध्याकालीन गश्त में प्रत्येक थाना प्रभारी मय हथियारों के साथ रहेंगे। प्रत्येक संदिग्ध से गहनता से पूछताछ होगी। बैठक में एसपी ने उल्लेखनीय कार्रवाई पर तालियां भी बजवाई और कमजोर प्रदर्शन पर फटकार भी लगाई। एसपी ने थानावार अपराध रिकॉर्ड की समीक्षा की। इसमें कई अधिकारियों का कमजोर प्रदर्शन सामने आया।

कांग्रेस में घमासान, प्रभारी मंत्री के सामने पूर्व विधायक के खिलाफ कार्यकर्ताओं ने खोला मोर्चा, बोले- ‘पूरी कांग्रेस खत्म कर दी’

वांछित अपराधियों की धरपकड़ के निर्देश
एसपी ने सीधे तौर पर कहा थाने पर आने वालों से मधुरता के साथ व्यवहार होना चाहिए। तत्काल प्रकरण दर्ज होना चाहिए और हर संभव मदद मिले। बड़ी-बड़ी एफआईआर ग्रामीणों को लिखकर देकर उनको थाने भेजने वालों को गवाह में सूचीबद्ध किया जाएगा। साथ एफआईआर के तथ्यों एवं पीडि़त के कथनों का मिलान किया जाए। इससे विरोधाभासी स्थिति नहीं बने। इनके अलावा लंबित प्रकरणों के निस्तारण, वांछित अपराधियों की धरपकड़ के भी निर्देश दिए। रात आठ बजे बाद शराब की बिक्री कहीं भी नहीं होनी चाहिए।

चालीस नए जवान आए
एसपी ने कहा कि हाल ही 40 नए जवान बांसवाड़ा में आए हैं। इनमें आधे जवान तो देहात के थानों में जाएंगे तथा आधे जवान शहर के थानों में रहेंगे। अभी ये जवान नए हैं, जिनको थाने से बेहतर प्रशिक्षण मिलना चाहिए, जिससे भविष्य में ये एक बेहतर पुलिसिंग कर सकें।