वीडियो : दशहरे पर इस अद्भुत जुलूस को देखकर दंग रह जाएंगे आप


प्रतापगढ़ असत्य पर सत्य की विजय का प्रतीक दशहरा पर्व मंगलवार को धूमधाम से मनाया गया। सुबह राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की ओर से शहर में पथसंचलन निकाला गया। इस संचलन में स्वयंसेवकों ने सामूहिकता की अद्भुत मिशाल पेश की।
इससे पहले सोमवार को शारदीय नवरात्र पर महानवमी सोमवार को मनाई गई। माता के मंदिरों में कई आयोजन किए गए। श्रद्धालुओं ने माता के मंदिरों में दर्शन किए और नवमी की पूजा-अर्चना की गई। माता के मंदिरों में सुबह से ही अनुष्ठान हुए। श्रद्धालुओं ने यज्ञ-हवन में आहुतियां दी। किला परिसर स्थित अम्बामाता, बाणेश्वरी माता मंदिर, राजराजेश्वरी मंदिरों में पूजा-अर्चना और अनुष्ठान के लिए कई श्रद्धालु पहुंचे। बाणमाता मंदिर में चौंसठ योगिनी की पूजा की गई। मंदिर में चौंसठ थाल सजाए और भोग लगाया गया।मंदिर पुजारी मोहनलाल त्रिवेदी ने बताया कि इसके साथ ही जवारा विसर्जन किया गया। शहर के दशहरा मैदान में रावण के पुतले का दहन किया जाएगा।इसके लिए पुतले तैयार किए जा रहे है।
चूपना . गांव के मध्य स्थित माताजी चौक में चल गरबा का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें कई गांवों से लोग पहुंच रहे है। देर रात तक यहां डांडियों की खनक सुनाई दे रही है। यहां गायक जया शर्मा गरबा की प्रस्तुति दे रही है। पांडाल में डांडिया की गूंज सुनाई दे रही है।
असावता.क्षेत्र में नवरात्र पर गरबों की धुन पर डांडियों की खनक सुनाई दे रही है। असावता, बजरंगगढ़, उमरखेड़ी, रामगढ़, जसवंतपुरा, अरनिया, बरोठा, सेमली, सेलारपुरा कोनी कुणी, राजपुरिया, टकरावद, साकरखेड़ी, बसेरा, भणावदा आदि गांव में गरबा के आयोजन हो रहे है।
अरनोद .क्षेत्र में नवरात्र के तहत कई आयोजन किए जा रहे है। जाजली गांव के रोहित कुमावत ने बताया कि गांव जाजली में गरबा नृत्य किया जा रहा है। इसमें गांव के कई लोग भाग ले रहे है।
मोवाई .मोवाई व कोटड़ी ओर शौली में राम नवमी के दिन कई आयोजन किए गए। गांवों में गरबा महोत्सव में डांडिया नृत्य के आयोजन हो रहे है।
चामुंडामाता मंदिर में दी कद्दू की बलि
बरखेड़ी .निकटवर्ती चामुण्डा माता शक्तिपीठ में कद्दू की बलि दी गई। यहां नवरात्र समापन पर माता के मंदिर पर हवन कर ज्वारा विसर्जित किए गए। यहां मध्य प्रदेश, गुजरात राजस्थान आदि इलाकों से श्रद्धालु पहुंचे।समापन पर यज्ञ और हवन कर चामुंडा माता को कद्दू की बलि दी गई। श्रद्धालुओं के अनुसार बताते है कि यहां कभी भी जीव की बलि नहीं दी जाती है। यहां के पुजारी भी जीव हत्या नहीं करने का संदेश देते है। ज्वारा विसर्जन कर महाप्रसादी वितरण की गई। वहीं दूसरी ओर विधायक रामलाल मीणा ने माता के दर्शन किए। उन्होंने बड़वास कला फंटा मां गेट से लेकर माताजी मन्दिर तक सडक़ बनाने का आश्वासन दिया।
करजू. संकट मोचन हनुमान मंदिर पर सोमवार को नवरात्र समापन के अवसर पर अखंड रामायण पाठ का समापन हवन यज्ञ करके किया गया। इस मौके पर दयाशंकर शर्मा, घनश्याम सुथार,, प्रहलाद जनवा मुकेश जणवा पंडित विष्णु शर्मा प्रभु लाल जोशी रघु शर्मा कपिल पारीक आदि मौजूद थे। शाम को संकट मोचन हनुमान मंदिर से शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें कई लोगों ने भाग लिया।