विधायकों का वेतन राज्य की प्रति व्यक्ति आय से 18 गुना ज्यादा

मेवाड़ किरण @ नीमच -

मध्य प्रदेश सरकार के ही पिछले आर्थिक सर्वेक्षण में वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान प्रचलित दरों के आधार पर राज्य की प्रति व्यक्ति शुद्ध आय 79,907 रुपए आंकी गई थी. आरटीआई से मिले जवाब के मुताबिक, हिसाब लगाने पर पता चलता है कि वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान सभी 231 विधायकों को औसतन 14.48-14.48 लाख रुपए के वेतन-भत्तों का भुगतान किया गया. यानी इस अवधि में हरेक विधायक की सरकारी कमाई सूबे की अनुमानित प्रति व्यक्ति आय के मुकाबले करीब 18 गुना ज्यादा थी.
प्रदेश विधानसभा की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, प्रत्येक विधायक को 30,000 रुपए प्रति माह की दर से वेतन, 35,000 रुपए का निर्वाचन क्षेत्र भत्ता, 10,000 रुपए का लेखन सामग्री, डाक भत्ता और 15,000 रुपए का कम्प्यूटर ऑपरेटर या अर्दली भत्ता दिया जाता है. प्रत्येक विधायक को हर माह 10,000 रुपए का टेलीफोन भत्ता भी मिलता है, भले ही उसके निवास स्थान पर टेलीफोन कनेक्शन हो या न हो. इनके अलावा, हरेक विधायक को अन्य सरकारी सुविधाएं भी मिलती हैं. इस तरह विधायक का वेतन हर माह लगभग 1 लाख 40 हजार तक हो जाता है।

Source : Apna Neemuch