लोक देवता दाता के दरबार में उमड़े नगरवासी

मेवाड़ किरण @ नीमच -

अपना जावद @ नोशाद अली
प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी नगर के पेट्रोल पंप चौराहा मोतीपुरा स्थित बरसो पुराना श्री रामद्धारा के पास अति प्राचीन सगस बावजी के स्थान पर शुक्रवार रात्रिकालीन को भव्य भजन संध्या हुई। उक्त कार्यक्रम की जानकारी देते हुए युवा समाजसेवी सुधीर सेन एवं सुनील माली पागा पहलवान ने बताया है की अतिप्राचिन स्थान लोक देवता सगसजी बावजी बरसो पुरानी बावडी के पास है। जहा कल शुक्रवार रात्रिकालीन को सगस बावजी रामद्धारा के पास सर्वप्रथम भजन संध्या की शुरुआत गणपति वंदना से हुई। मुरली खारोल, उदयराम खारोल, मदन दमामी, हरिश दमामी, रतनलाल शर्मा, घीसालाल गुर्जर सेमली इत्यादि क्षेत्रो के भजन गायरो ने दमा दम मस्त कलंदर, भोले भांग खाओंगे या दम लगाओंगे, मेरा भोला है भंडारी करता है नंदी की सवारी, आसरो बालाजी माने थारो, कंचन वाली काया सैलानी मैं तो पामणा एक दिन जावाला, आएगा मेरा सावरा दिल से बुला कर तो देख, सावन की बरसे बदरिया मॉ की भीगे चुनरिया, चालो रे सब चालाे सगसजी रे दरबार जैसे भजनों से कई धार्मिक भजनो की शानदार प्रस्तुति देर रात्रि तक चली जिसने सभी श्रद्धालुओं को मंत्रमुग्घ कर दिया। एक से बढकर एक गायकों ने भजनो की प्रस्तुतियां दी सभी भक्तजन भजनो मे झुम उठे भजन संध्या के सम्पन्न के प्रश्चात प्रशाद (गोष्ठी) वितरित की गई। आगे उन्होंने बताया की यहा दुर दुर से भक्तजन दर्शन करने के लिए आते, अपने आपको धन्य महसूस करते है जो भी यहा मान्यता मानते है वह पुरी होती है। युनिटी ऑफ खोर दरवाजा के तत्वावधान मे सभी का जनसहयोग से आयोजन किया जाता है। भजन संध्या में वरिष्ठ नारायण सोमानी, धर्मेन्द्र माली, यशवंत चौधरी, अनिल लक्ष्कार, जगदीश राठौर, सुनील माली, पागा पहलवान, सुधीर सेन, पवन लौहार सहित कई भक्तजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का आभार सुधीर सेन एवं सुनील पागा पहलवान ने माना।

Source : Apna Neemuch