लाखों की लूट के बदमाशों का नहीं सुराग, हवा में हाथ-पैर मार रही पुलिस

लक्ष्मणसिंह राठौड़ राजसमंद/ रिछेड़

गेलता की ओड़, रिछेड़ में वृद्ध दम्पती से मारपीट कर लाखों रुपए के सोने-चांदी के जेवर व नकदी लूट ले जाने वाले नकाबपोश बदमाशों को दूसरे दिन भी कोई सुराग नहीं लग पाया। अब क्षेत्र में सीसीटीवी कैमरों के फुटेज व बदमाशों के हुलिये के आधार पर पुलिस ने तलाश शुरू कर दी। कुछ अहम साक्ष्य जुटाए हैं, जिससे उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द बदमाशों का पर्दाफाश हो जाएगा।

पुलिस के अनुसार बताया कि गेलता की ओड़ निवासी पुजारी देवपुरी पुत्र शंकरपुरी गोस्वामी व उनकी पत्नी खुमाणीबाई से मारपीट कर 12 मार्च की रात 11 बजे चार नकाबपोश बदमाश लाखों के सोने- चांदी के जेवर लूट ले गए। गुरुवार सुबह कुंभलगढ़़ पुलिस उप अधीक्षक नरपतसिंह व चारभुजा थाना प्रभारी भरतसिंह मय जाब्ते के दोबारा गेलता की ओड़ पहुंचें, जहां पीडि़त दम्पती से बदमाशों का हुलिया जाना। साथ ही पीडि़त के घर से लेकर आस पास के खेत खलिहान व रिछेड़ गांव तक गहन तहकीकात की। रिछेड़ से लेकर चारभुजा व आस पास के गांव व चौराहों पर विभिन्न दुकानों, प्रतिष्ठानों के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले, जिससे पुलिस को कुछ अहम साक्ष्य हाथ लगे हैं। उसी आधार पर आगे जांच शुरू कर दी है। उम्मीद जताई जा रही है जल्द ही लूट की वारदात का पर्दाफाश हो जाएगा।

एकांत में है दम्पती का घर
वृद्ध दम्पती देवपुरी व खुमाणीबाई अकेले ही रहते हैं, जिनका मकान आबादी दूर एकांत में है। इसी वजह से आस पड़ोस के लोगों को भी कोई भनक लगी नहीं लगी और बदमाश रात दस बजे ही घुस आए और करीब डेढ़ घंटे तक उत्पात मचाते हुए सोने-चांदी के जेवर व नकदी लूट ले गए।