राज्य सरकार द्वारा 1500 रूपये का भत्ता कम करने से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं में आक्रोश

मेवाड़ किरण @ नीमच -

मध्यप्रदेश शासन की कमलनाथ नित्त सरकार द्वारा जो बजट प्रस्तुत किया गया जिसमें सरकार ने अपना मानदेय 1500 रूपये बढ़ाया था तो मानदेय 11500 रूपये होना चाहिये था जिसकी जगह अपना मानदेय 10000 रूपये ही रह गया राज्य सरकार ने 1500 रूपये अतिरिक्त मानदेय की कटौती की है जो मानदेय अपना अभी 5500 रूपये रह गया और केन्द्र का मानदेय 4500 रूपये कुल मिलाकर 10000 रूपये ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का कुल मानदेय रह गया है आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मध्यप्रदेश महासंघ शीघ्र ही हाईकोर्ट में कार्यवाही कर 1500 रूपये का भत्ता वापस स्वीकृत करवायेगी। यह बात मध्यप्रदेश मानसेवी आंगनबाड़ी सहायिका, कार्यकर्ता, संघ की प्रदेश अध्यक्ष पार्वती आर्य ने बजट पर प्रेस को जारी बयान में कही। उन्होने कहां कि सोमवार को सभी आंगनबाड़ी सहायिका एवं कार्यकर्ता एवं प्रदेश अध्यक्ष पार्वती आर्य के नेतृत्व में भोपला पहूंचे और बजट सत्र में अपनी बात मुख्यमंत्री एवं वित्त मंत्री के पास पहूंचायेगें और 1500 रूपये का भत्ता वापस स्वीकृत कराने की मांग रखेगें। यदि 1500 रूपये का भत्ता वापस नहीं बढ़ाया गया तो शीघ्र ही सभी सहायिका एवं कार्यकर्ता संगठित होकर राज्य सरकार के खिलाफ उग्र आंदोलन करने को मजबूर होगी।

Source : Apna Neemuch