राजस्‍थान की 9892 ग्राम पंचायतों में से एक हजार पंचायतों ने भी उजियारी श्रेणी के लिए नहीं किया आवेदन..ये है वजह

भुवनेश पंड्या/ उदयपुर . प्रदेश भर की 9892 ग्राम पंचायतों में से एक हजार पंचायतों ने भी उजियारी श्रेणी के लिए आवेदन नहीं किया । अब तक कुल 907 आवेदन किए गए हैं। उदयपुर जिले से केवल 42 आवेदन किए गए हैं। उल्लेखनीय है कि सरकार ने ऐसी पंचायत को उजियारी पंचायत घोषित कर पुरस्कृत करने का निर्णय किया था जिसका एक भी बच्चा स्कूल की देहरी से बाहर न हो।

शिक्षा विभाग की इस महत्वाकांक्षी योजना के तहत अनामांकित तथा ड्रॉप आउट बालक-बालिकाओं की सर्वे रिपोर्ट तैयार होगी। इसके लिए 3 से 18 वर्ष आयु रखी है। ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के अलग-अलग विलेज एजुकेशन रजिस्टर बनेंगे। पंचायत प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी ये रजिस्टर बनाएंगे। इसमें पंचायत क्षेत्र के सभी गांव के अनामांकित और ड्रॉपआउट का रिकॉर्ड रखा जाएगा। वार्ड एजुकेशन रजिस्टर शहरी क्षेत्र के लिए ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी संधारित करेंगे। सर्वे के आंकड़ों के आधार पर अनामांकित और ड्रॉप आउट विद्यार्थी तय किए गए हैं, उनको शाला दर्शन तथा शाला दर्पण पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा।

यह है प्रक्रिया
ग्राम सभा से प्रस्ताव पारित होने के पश्चात पंचायत प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी की ओर से उजियारी पंचायत की घोषणा के लिए शपथ पत्र ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय को प्रस्तुत कर ग्राम पंचायत के सरपंच ग्राम सचिव स्वयं पंचायत प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी तथा महिला एवं बाल विकास विभाग की पर्यवेक्षक से हस्ताक्षर करवा कर प्रस्तुत करेंगे। पंचायत प्रारंभिक शिक्षा अधिकारियों की ओर से प्रस्तुत शपथ पत्रों को ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी समेकित कर जिला कार्यालयों को 5 अगस्त तक भेजेंगे।

 

READ MORE : video : उदयपुर में महाकाल मंदिर में हुआ राज्य सरकार की ओर से भगवान श‍िव का रुद्राभिषेक..

 

आवेदन के लिए यह जरूरी
पंचायत क्षेत्र के 3 से 5 वर्ष के सभी बच्चेआंगनबाड़ी में प्रवेशित हों। पंचायत क्षेत्र के 5 से 6 वर्ष आयु वर्ग के सभी बच्चों का प्रवेश पहली कक्षा में प्रवेश हो। हाउस होल्ड सर्वे में चिह्नित अनामांकित व ड्रॉपआउट बच्चों का आयु अनुरूप कक्षा में प्रवेश हो चुका हो। विद्यालय में पहले से अध्ययनरत सभी विद्यार्थियों का अगली कक्षाओं में प्रवेश हो चुका हो, कोई विद्यार्थी 45 दिन या इससे अधिक अवधि तक अनुपस्थित नहीं हो, यदि है तो आयु के अनुरूप कक्षा में फिर प्रवेश दिलाया जाए, पीईईओ कार्यालय में पंचायत क्षेत्र के 0 से18 आयु वर्ग के बच्चों का हाउस होल्डवार सर्वे हो।

 

अभी एक सप्ताह शेष

अभी हमारे पास एक सप्ताह है। 31 तक तो नामांकन अभियान जारी है, सभी ब्लॉक पर कलक्टर कमेटी बनाएंगे। ये कमेटी जांचेंगी कि किए गए आवेदन में से हकीकत में कितनी उजियारी पंचायत है, हम अधिक से अधिक आवेदन करवाएंगे।
नरेश डांगी, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक प्रथम

 

उजियारी पंचायत में आवेदन

जिला आवेदन
उदयपुर 42

अजमेर 54
अलवर 40

बांसवाड़ा 15
बारां 22

बाड़मेर 00
भरतपुर 50

भीलवाड़ा 22
बीकानेर 03

बूंदी 24
चित्तौडगढ़़ 79

चूरू 21
दौसा 13

धौलपुर 76
डंूगरपुर 05

गंगानगर 23
हनुमानगढ़ 14

जयपुर 16
जैसलमेर 03

जालौर 02
झालावाड़ 10

झुंझुनूं 17
जोधपुर 03

करौली 78
कोटा 11

नागौर 50
पाली 10

प्रतापगढ़ 47
राजसमंद 08

स.माधो. 101
सीकर 04

सिरोही 25
टोंक 19