मुमुक्षु दीक्षार्थी जयति बहन का वरघोड़े में उमड़े श्रद्धालु

मेवाड़ किरण @ नीमच -

सुबह 8 से 9 बजे तक समस्त नवकारमंत्र आराधक परिवारों के लिए नवकारसी कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसके लाभार्थी अनिल संजय बैगानी, मदनलाल अशोक चण्डालिया परिवार थे। श्री राजेन्द्र सूरीश्वर गुरूपद महापूजन दोपहर 12.39 बजे आयोजित किया गया। जिसके लाभार्थी विमलकुमार, सौरभ सकलेचा परिवार थे। सुबह 9 बजे शंखेश्वर पार्श्वनाथ प्रभु राजेन्द्रसूरी गुरूदेव की रथयात्रा एवं मुमुक्षु दीक्षार्थी बहन जयति छाजेड़ का वर्षीदान वरघोड़ा धुमधाम के साथ नगर के प्रमुख मार्गो से निकला। दोपहर 12.30 बजे स्वामी वात्सल्य समस्त नवकारमंत्र आराधक परिवार का आयोजित जिसके मुख्य लाभार्थी बिल्डर भारत श्रीमति आशा, राजेन्द्र संगीता जारोली परिवार थे। 108 दीपक से महाआरती आयोजित हुई सभी धार्मिक कार्यक्रमों में महिलाएं केसरिया व पुरूश श्वेत परिधानों में सहभागी बने। उल्लेखनीय है कि मोहनखेड़ा स्थित गुरूदेव के मंदिर दर्शनाथ प्रतिवर्ष गुरू सप्तमी पर करीब डेढ़ से दो लाख वर्ष श्रद्धालु भक्त दर्शनार्थ पहूचते है शंखेश्वर पार्श्वनाथ मंदिर में विगत पांच वर्षो से मोहनखेड़ा वाले गुरूदेव की कृपा से गुरू सप्तमी महोत्सव विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों के साथ निरंतर आयोजित किया जा रहा है जिसमें देशभर के हजारों श्र्द्धालु भक्त सहभागी बन रहे है ैअब लोग शंखेश्वर मंदिर को मिनी मोहनखेड़ा के नाम से जानने लगे ।

Source : Apna Neemuch