मदरसो में गूंजा सारे जहाँ से अच्छा हिंदुस्तान हमारा

अपना जावद @ नोशाद अली
राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस के मौके पर नगर के मदरसा हबिबिया इस्लामीया अठाना दरवाजा, मदरसा गौसिया रामपुरा दरवाजा एवं समीपस्थ मदरसा अंजुमन खलिलीया उम्मेदपुरा पर गणतंत्र दिवस हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया और ध्वजारोहण का आयोजन किया गया। जिसमे ध्वजारोहण जावद शहर काज़ी सैयद मोहम्मद आकिल और गुलाम यजदानी एडवोकेट नीमच ने किया, कार्यक्रम के दौरान बच्चों ने सारे जहाँ से अच्छा हिंदुस्तान हमारा भी गुनगुनाया।
शहर काज़ी सैयद मोहम्मद आकिल ने गणतंत्र दिवस की मुबारकबाद देते हुए कहा कि प्रत्येक भारतवासियों के लिए 26 जनवरी महत्वपूर्ण दिन है। 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का संविधान लागू हुआ था। गणतंत्र दिवस हमारा राष्ट्रीय पर्व है, जिसे हम धूमधाम से मनाते हैं। आज का दिन भारतीय नागरिकों के लिए महत्वपूर्ण दिन और इतिहास में सदा के लिए उल्लेखित हो चुका है। आज पूरा देश इस पर्व को धूमधाम से व उत्साहपूर्वक मनाता है। मदरसों मे इसी तरह के प्रोग्राम से मदरसों के बच्चों में देश प्रेम की भावना उत्पन्न होती है।
एडवोकेट यज़दानी खान ने मदरसों में आधुनिक शिक्षा को बुनियादी जरूरत बताते हुए कोम की तरक्की के लिए बच्चों की तालीम पर खुसुसी तवज्जो देने की बात कही।शिक्षा के महत्ता बताते हुए हर इंसान को शिक्षित होने का संदेश दिया। समाज में फैली बुराइयां दूर करने को कहा। कोम के जरूरतमंद बच्चों को आर्थिक सहयोग की जरूरत हो तो हम तत्पर रहेगे। बच्चों की तालीम के लिए सबको मिलकर सहयोग करना होगा। तत्पश्चात बच्चों में मिष्ठान वितरण किया गया। इस मौके पर सभी मस्जिद के इमाम, बज़्म ए क़ादरी ग्रुप, मदरसे के बच्चे और मुस्लिम समुदाय के लोग मौजूद रहे।