मतगणना की तैयारियां पूरी, अब सिर्फ 11 दिसबंर का इंतजार

मंदसौर । 28 नवंबर को मतदान के बाद से हर किसी को ११ दिसबंर का इंतजार है। आयोग ने भी मतगणना को लेकर अपनी तैयारियां पूरी कर ली है।अब सिर्फ११ दिसबंर का इंतजार है। मतगणना में लगाए गए कर्मचारियों को बुधवार को पीजी कॉलेज के समीप कुशाभाऊ ठाकरे ऑडिटोरिय में जेके जैन ने प्रशिक्षण दिया। पोस्टल बैलेट से लेकर अलग-अलग रांउड में होने वाली मतगणना की पूरी प्रक्रिया समझाई गई। अलग-अलग टेबल पर तैनात कर्मचारियेंा के साथ कम्प्यूटर के अलावा पोस्टल बैलेट की गणना में लगे कर्मचारियों को उनका काम समझाया गया।साथ ही मतगणना के दौरान पीजी कॉलेज में सुबह से शुरु होने वाली प्रक्रिया की जानकारी भी दी गई। इस दौरान यहां कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव, एडीएम अनिल डामोर के साथ चारो सीटों के एसडीएम के अलावा अन्य अधिकारी व कर्मचारी यहां मौजूद थे।
प्रशिक्षण के बाद किया निरीक्षण
मतगणना को लेकर हुए प्रशिक्षण के बाद कलेक्टर सहित अन्य अधिकारियों के अमले ने पीजी कॉलेज में मतगणना को लेकर चल रहे कामों की जानकारी ली और यहां निरीक्षण किया। मतगणना के लिए तैयार हो रहे कक्षों के अलावा बाहर किए जा रहे कामों के साथ ही अन्य समस्त कामों की जानकारी लेकर उन्हें समय-सीमा में पूरा करने के लिए निर्देश दिए गए।इस दौरान चारों विधानसभाओं के लिए बनाए जा रहे ८ कमरों और इनमें लगाए जा रही टेबलों के अलावा यहां एजेंटों सहित अन्य लोगों व एनआईसी कक्ष सहित मीडिया कक्ष के लिए हो रही तैयारियेंा की जानकारी हर जगह पहुंचकर ली।
ऐसी रहेगी मतगणना की व्यवस्था
पीजी कॉलेज में बने स्ट्रांग रुम में मतगणना होगी। सुबह ८ बजे से ८.३० बजे तक पोस्टल बैलेट की गिनती होगी।इसमें प्रत्येक विधानसभा में २ यानी चार सीटो पर ८ टेबल लगाई जाएगी। इसमें प्रत्येक टेबल पर २ यानी ८ पर कुल १६ कर्मचारी रहेगी। चार सीटों पर १-१ कम्प्यूटर पर काम करने के लिए कर्मचारी रहेगा। यानी चार कर्मचारी कम्प्यूटर पर डॉटा अपलोड करेंगे। एक विधानसभा में १४ टेबल दो कक्षों में ७-७ लगाई जा रही है। यानी चार सीटो के लिए कुल ५६ टेबल और ८ कमरों में यह टेबल लगाई जा रही है। एक टेबल पर तीन यानी इन ५६ टेबलों पर १६८ कर्मचारी रहेगी। साख्यिकी से जुड़े काम के लिए चार कर्मचारी रहेंगे। मतगणना के दौरान २२ राउंड होगें। चारो सीटो के लिए प्रत्याशियों के करीब ७०० एजेंट भी इस दौरान यहा मौजूद रहेंगे। हर राउंड के बार वोटों की स्थिति सार्वजनिक की जाएगी। मतगणना के लिया यहां तैयारियां अंतिम दौर में चल रही है।
स्क्रीन पर मिलेगी हर राउंड की जानकारी
इसके अलावा मतगणना स्थल पर एक एनआईसी कक्ष और एक मीडिया कक्ष बनाया जा रहा है। तो यहां पर बाहर एक स्क्रीन लगाईजा रही है। इसमें हर राउंड की जिले की चारों सीटों की वोटों की गिनती बताई जाएगी। इसके अलावा लाउडीस्पीकर भी लगाया जा रहा है। मतगणना वाले दिन पूरे क्षेत्र में बैरिकेट्स लगाने के साथ कैमरो के अलावा सुरक्षा बल की तैनाती के साथ अन्य सुरक्षा इंतजाम पुख्ता किए जाएंगे।
5 लाख 12हजार 36 मतदाता कर चुके 39के भाग्य का फैसला
जिले की चार सीटों के चुनावी रण में इस बार 39 प्रत्याशी मैदान में थे। इसमें कुल ९ लाख ४६ हजार ३१५ मतदाताओं में से चार विधानसभा में बनाए गए कुल ११४० मतदान केंद्रों पर ५ लाख ९२ हजार ३६ लोगों ने मतदान किया। इसके अलावा ८ हजार पोस्टल बैलेट जारी किए। 11 दिसबंर को इन 5 लाख ९२ हजार ३६ वोटों की गिनती का काम होना है। जिले के यह मतदाता २८ नवंबर को मतदान कर ३९ प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला कर चुके है जो ११ दिसबंर को सामने आएगा।
पोस्टल बैलेट व सर्विस वोटर के कई वोट आना बाकी
चारों सीटों पर आयोग ने करीब १०२८ सर्विस वोटरों के लिए डाकमत पत्र ऑनलाईन जारी किए थे। इसमें अब तक सिर्फ ६९ ही आए हैतो जिले में ८ हजार ३२७ पोस्टल बैलेट जारी हुए थे। इसमें से अब तक सिर्फ 5 हजार १६६ वोट ही आए थे। इस तरह बड़ी संख्या में अभी सर्विस वोटर व पोस्टल बैलेट कर्मचारियों के आना बाकी है। ऐसे भी कर्मचारी है जिन्हें अब तक पोस्टल बैलेट प्राप्त भी नहीं हुए है। ११ दिसबंर को मतगणना शुरु होने से पहले तक पोस्टल बैलेट से मतदान कर्मचारी कर सकते है। यह स्थिति मंगलवार तक की है।
फेक्ट फाईल
मतगणना स्थल-पीजी कॉलेज
विधानसभा- 4
कुल टेबल लगाईजाएगी- 56
इन पर कर्मचारियों की ड्युटी-168
साख्यिकी के लिए ड्युटी- 24
पोस्टल बैलेट के लिए टेबल लगेगी-8
पोस्टल बैलेट के लिए कर्मचारियों की ड्युटी-16
कम्प्यूटर के लिए ड्युटी-4
चारों सीटों पर प्रत्याशियों के एजेेंटे- 700
मतदान केंद्र थे- 1140