भैसरोडग़ढ़ में पम्प हाउस पानी में डूबा, शहर से उतरी जलापूर्ति की गाडी

भीलवाड़ा।

भैसरोडग़ढ़ में चम्बल परियोजना पम्प हाउस में पानी भरने से शहर की जलापूर्ति पटरी से उतर गई है। चम्बल का पानी शहर तक नहीं आने से आपूर्ति दो से तीन दिन सप्लाई आगे खिसकाई गई है।

भैसरोडग़ढ़ के निकट चम्बल नदी पर परियोजना का पम्प हाउस बना हुआ है। पम्प हाउस में पानी भरने से शहर तक आपूर्ति नहीं हो सकी। जलदाय विभाग के सहायक अभियंता निरंजन आड़ा ने बताया कि कई इलाकों में ४८ से ७२ घंटे का अंतराल हो गया है। व्यवस्था बनाने के लिए ककरोलिया घाटी और मेजा बांध से पानी लिया जा रहा है। हालांकि कई इलाके एेसे है जहां से दोनों सिस्टम से लाइन नहीं जुड़ी होने से वहां के लोगों को पेयजल सप्लाई नहीं किया जा सकता। एेसे में वहां पनघट और हैडपम्प तैयार किए जा रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्र भी इससे प्रभावित होंगे। पम्प हाउस से पानी उतरने के बाद ही व्यवस्था सुचारू हो पाएगी।


यहां मिलेगा आज पानी

सुभाषनगर जीणमाता मंदिर इलाका, सुभाषनगर पश्चिमी विस्तार, हुसैन कॉलोनी, शिवाजीनगर, अम्बेडकर कॉलोनी व वैभवनगर में सोमवार को जलापूर्ति की जाएगी। हालांकि ४८ से ७२ घंटे के बाद सोमवार को पानी आएगा। इसी तरह माणिक्यनगर, गुलमंडी, धानमंडी, जूनावास, भदादा मोहल्ला, पुराना भीलवाड़ा में मंगलवार को जलापूर्ति की जाएगी। सिविल लाइन, मजिस्टे्रट कॉलोनी, संजय कॉलोनी, गुलनगरी, सांगानेर कॉलोनी में बुधवार को जलापूर्ति की जाएगी।