बिजली चोरी होने जैसी समस्याओं से मिलेगी निजात

मंदसौर । गरोठ नगर में पुरानी हो चुकी बिजली एलटी लाइन के तारों को निकाल कर उनकी जगह हेवी केबल लगाई जा रही है।तारों को केबल में परिवर्तित करने का कार्य शुरू कर दिया गया है।बिजली कंपनी का दावा है कि केबलीकरण हो जाने से एक तरफ जहां उपभोक्ताओं को सुविधा मिलेगी तो दूसरी तरफ कंपनी को भी अनेक सुविधायें मिलेगी।
जानकारी के मुताबिक मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा पुराने हो चुकी शहर की एलटी लाइनों के तारों को बदलने का कार्य चालू किया है, बिजली कंपनी का दावा है कि पूरे शहर में केबलीकरण हो जाने से बिजली के खंबों में करंट आना बंद हो जाएगा।इसके साथ ही सामान्य दिनों में तथा विशेषकर बरसात के दिनों में चलने वाली तेज हवा के कारण आपस में तार टकरा जाने के कारण फ ाल्ट नहीं होगा। बिजली बंद नही हो पाएगी। इसके साथ साथ केबल होने के कारण डायरेक्ट बिजली की चोरी होने से भी निजात मिलेगी।बिजली कंपनी द्वारा बताया गया कि शहर की बिजली व्यवस्था काफी पुरानी है जिसके कारण बार.बार एक खंबे से दूसरे खंबे पर जाने वाले तार आपस में टकरा जाते थे जिसके कारण कभी भी बिजली बंद होने जैसी समस्याएं आ रही थी चूंकि लाइन पुरानी हो जाने के कारण कई जगह से तार टूटने की शिकायतें भी आ रही थी जिसके कारण बिजली कंपनी के कर्मचारियों के साथ साथ विशेषकर उपभोक्ताओं को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था।जिसे देखते हुए कंपनी द्वारा पुराने एलटी लाइन के तार बदलकर एक खंबे से दूसरे खंबे तक हेवी केबल लगाकर एलटी लाइनों को बदला जा रहा है पूरे शहर में केबलीकरण के बाद शहरवासियों को सुविधा मिलने के साथ.साथ बिजली कंपनी के कर्मचारियों को भी कई समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।इसके साथ ही असामाजिक तत्व केबल के माध्यम से डायरेक्ट विद्युत की चोरी भी नहीं कर सकेंगे। बिजली कंपनी के अनुसार गरोठ नगर में 40 प्रतिशत पुरानी लाइनों के तार बदलकर उनकी जगह केबल लगा दी गई है शेष कार्य चल रहा है जो आगामी दिनों में पूरा हो जायेगा।
कई सुविधाएं मिलेगी.
गरोठ नगर में बिजली लाइनें काफी पुरानी हो चुकी थी इसके कारण बार.बार तार टूटने से बिजली बंद होना। खंभों से करंट आना। बिजली चोरी होने जैसी शिकायतें आ रही थी जिनके समाधान करने के लिए कंपनी द्वारा पुराने तारों की जगह केबल लगाई जाकर लाइनों का केबलीकरण किया जा रहा है।इससे उपभोक्ताओं आम नागरिकों के साथ.साथ कंपनी को भी लाभ मिलेगा।गरोठ के साथ साथ गरोठ संभाग के शामगढ़ में भी इसी प्रकार पुरानी लाइनों को केबल में परिवर्तन किए जाने का कार्य शुरू कर दिया गया है।ष्
कुमार प्रेमानंद कनिष्ठ यंत्री बिजली कंपनी गरोठ