बांसवाड़ा में नाबालिग का वहशीपन, 7वीं की छात्रा को धोखे से ले जाकर बलात्कार, 5 घंटे तक खेत में बेसुध पड़ी रही छात्रा

बांसवाड़ा. जिले के आंबापुरा थाना क्षेत्र के एक गांव में शनिवार रात सातवीं की छात्रा के साथ उसी के स्कूल के ग्यारहवीं कक्षा के छात्र ने खेत में ले जाकर बलात्कार किया और उसे वहीं छोडकऱ भाग खड़ा हुआ। छात्रा करीब पांच घंटे तक बेहोश हालत में खेत में पड़ी रही। जब उसकी बेहोशी टूटी तो सामने सडक़ पर पहुंची। फिर परिजनों की मदद उसे एम जी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत नाजुक है।

banswara : युवक की घर में धारदार हथियार से हत्या, प्रेम प्रसंग के चलते वारदात का अंदेशा

पुलिस के अनुसार शनिवार रात गांव में जागरण कार्यक्रम था। इस दौरान रात करीब साढ़े 10 बजेछात्र उसी के स्कूल में पढऩे वाली छात्रा को बहला-फुसलाकर पास ही मक् का के खेत में ले गया और बलात्कार किया। छात्रा जब बदहवास सी हो गई तो उसे वहीं छोडकऱ भाग गया। 12 साल की पीड़िता को सुबह पांच बजे सामने सडक़ पर गुजर रही मिनी बस के होर्न की आवाज सुनकर होश आया अैर वह जैसे-तैसे सडक़ पर आई। इसी बीच लडक़ी को तलाशते हुए परिजन भी पहुंच गए। तब वे उसे लेकर अस्पताल पहुंचे।
काफी बह गया खून, दो यूनिट चढ़ाना पड़ा
वारदात से पीडि़त छात्रा का अत्यधिक रक्तस्त्राव हो गया। इसके चलते अस्पताल लाने के बाद वह फिर बेसुध हो गई। उसकी हालत भांपते हुए चिकित्सकों ने दो यूनिट खून चढ़ाया। इसके बाद भी रविवार मध्यान्ह तक वह बोलने की स्थिति में नहीं आ पाई। इसे लेकर एकबारगी उसे रैफर करने के कयास भी लगे, लेकिन बाद में स्टेबल होने तक टाल दिया गया। बच्ची का उपचार जारी है।
घर छोडऩे के बहाना बनाकर ले गया खेत में
पीडि़ता की मां ने बताया कि आरोपी छात्र उसकी बेटी के स्कूल में ही पढ़ता है और इस कारण एक दूसरे को जानते थे। लडक़े ने उसे गुमराह किया कि रात ज्यादा हो गई है, वह उसे उसके घर तक छोड़ देगा। पहले से जानकार होने से उसने उसकी बात पर भरोसा किया और इसके बाद उसे घर की बजाय खेत मेें ले गया और बलात्कार किया।
इनका कहना है..
आंबापुरा थानाधिकारी किलेंद्रङ्क्षसह का कहना है कि छात्रा की मां की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी भी नाबालिग है। उसे जल्द डिटेन कर लिया जाएगा।