बांध उफनने के बाद आया सैलाब सड़क ही साथ ले गया, सो रहे लोग जान बचाकर भागे, कई इलाके जलमग्न

शक़्करगढ़
राजस्थान के कई जिलों में तेज बारिश ( heavy rain in rajasthan ) के चलते बाढ़ के हालात हो गए हैं। भीलवाड़ा के शक़्करगढ़ इलाके में 3 दिन से लगातार बारिश ( heavy rain in bhilwara ) जारी है जिससे जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। कस्बे के भीमपुरा बांध में चादर चलने के बाद तेज बहाव के कारण माल का खेड़ा भोपालपुरा मार्ग की सड़क व पुलिया टूट ( road damage in rain ) गई। जिससे मार्ग अवरुद्ध हो गया। आवागमन बंद होने से कई गांवों का संपर्क कट गया है। वहीं शुक्रवार देर रात इसी मार्ग पर एक बाइक सवार बहादुरपुरा निवासी शंकर बलाई पानी के बहाव में बाइक समेत बह गया।


500 मीटर तक बहा और सुरक्षित निकला

इस दौरान गनीमत यह रही कि युवक 500 मीटर की दूरी तक बहता हुआ सुरक्षित बाहर निकल गया। वहीं ग्रामीणों की सहायता से युवक की मोटरसाइकिल को शनिवार सुबह बाहर निकाला गया। शक्करगढ़ ग्राम पंचायत द्वारा सड़क मार्ग की टूटी पुलिया पर मिटटी डलवाई गई और मार्ग सुचारु रुप से चालू करवाया गया।

इधर, भंडारे में सो रहे लोग जान बचाकर भागे।

कस्बे के निकट से गुजर रही मेज नदी के किनारे स्थित रामदेवरा भंडारे में शुक्रवार अचानक तेज बहाव के साथ पानी आने के बाद भंडारे में सो रहे लोग अपनी जान बचाकर बाहर निकले। वहीं भंडारे में पड़े बर्तन, बिस्तर, खाद्य सामग्री इत्यादि लाखों का समान पानी के बहाव के साथ बह गया। साथ कस्बे के भीमपुरा बांध की भराव क्षमता से 3 फीट बांध की चादर चलने से कस्बे के रेगर मोहल्ला जलमग्न हो गया। वहीं कई कच्चे मकान बारिश के पानी से ढह गए।

 

यह खबरें भी पढ़ें...

एक ही परिवार की दो किशोरियों की हुई संदिग्ध हालत में मौत, गांव में छाई शोक की लहर

 

इंजीनियर बनने के बाद अपनाया वाहन चोरी का पेशा, साथियों के साथ मिलकर करता था वारदात


चारदीवारी में बवाल मामला: उपद्रव फैलाने वाले 240 लोग चिन्हित, 140 को पकड़ा, अफवाह फैलाने वालों पर कड़ी निगरानी