पीडि़त मानवता की सेवा का मंदिर भी है इनरव्हील

मेवाड़ किरण@नीमच -

नीमच. इनरव्हील पीडि़त मानवता की सेवा का मन्दिर भी है। सेवा से व्यक्तित्व का विकास होता है। युवा वर्ग पीडि़त मानवता की सेवा के क्षेत्र में आगे आएं तभी उनका जीवन सार्थक साबित होगा। सेवा के लिए सभी संघर्ष करें और हारकर भी जीतना सिखें। बुजुर्गों की सेवा तथा बच्चों को संस्कार सिखाएं तभी हमारा समाज प्रगति करेगा।
यह बात इनरव्हील क्लब ऑफ नीमच डायमण्ड द्वारा ड्रिस्ट्रीक चेयरमेन (मण्डलाध्यक्ष) की अधिकारिक यात्रा के अवसर पर लायन डेन में आयोजित समारोह में बतौर मुख्य अतिथि इनरव्हील ड्रिस्ट्रीक चेयरमेन संगीता जोशी ने कही। उन्होंने कहा कि मातृवत्सला गोमाता की रक्षा के लिए प्लास्टिक का प्रयोग नहीं करें। हमेशा अपने साथ कपड़े की थैली रखें। महिलाओं एवं युवतियों के लिए आत्मरक्षा, स्वरोजगार प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जाएं। इनरव्हील क्लब ऑफ नीमच डायमंड की अध्यक्ष पूजा गर्ग ने कहा कि सकारात्मक उद्देश्य के साथ हमें पीडि़त मानवता की सेवा के लिए सजग रहना होगा। क्लब सचिव सारिका पाटोदी ने क्लब द्वारा वर्तमान सत्र में आयोजित सामाजिक एवं सांस्कृति गतिविधियों का प्रतिवेदन विस्तार से प्रस्तुत किया। स्वागत गीत सपना सिंहल, अर्चना परिहार, सोनल गर्ग द्वारा प्रस्तुत किया गया। कोषाध्यक्ष अर्पिता सोनी द्वारा आय-व्यय का विवरण प्रस्तुत किया। इससे पूर्व महिलाओं की 100 शब्दों में लिखकर सजावट प्रतियोगिता आयोजित की गई। इसमें डिम्पल सोनी, स्वाति शर्मा, लक्ष्मी शर्मा, सपना सिंहल ने भाग लिया। रक्षा पोरवाल एवं सुनिता डबकरा ने 'इनरव्हील थीम 18 -19 गल्र्स एंड वुमेन पावरÓ विषय पर विस्तार से प्रकाश डाला । अतिथियों को स्मृति चिन्ह के रूप में उन्हीं के फोटो से सुज्जित फोटो फ्रेम प्रदानकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में आईपीपी अन्नपूर्णा शर्र्मा, सपना मोगरा, अलका मंगल, रोटरी डायमंड अध्यक्ष आशिश गर्ग बामनबर्डी, संस्थापम हेंमत भंडारी, अजीत कोठीफोड़ा, पूर्व अध्यक्ष दीपक मूंदड़ा, कोषाध्यक्ष आशीष गर्ग सहित बड़ी संख्या में गणमान्य लोग उपस्थित थे। इस अवसर पर रोटरी डायमण्ड पदाधिकारियों का सम्मान भी किया गया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से हुआ। अंत में पुलवामा हमले में शहीद सैनिकों को 2 मिनट का मौन रखकर श्रद्धाजंलि दी गई। ड्रिस्ट्री चेयरमेन संगीता जोशी ने क्लब द्वारा संचालित सेवा प्रकल्प गतिविधियों का अवलोकन किया। सेवा कार्यों का सम्मान योग्य कदम बताया। कार्यक्रम का संचालन डा. गर्विता रूनवाल ने किया।
छात्राओं को सेनेटरी नैपकीन मशीन की दी सौगात
इनरव्हील अधिकारिक यात्रा कार्यक्रम में पुष्पादेवी खंडेलवाल व मुन्नीदेवी पालिवाल के सहयोग से कन्या शासकीय माध्यमिक विद्यालय क्रमांक-2 थाने के पीछे 70 छात्राओं के उपयोग के लिए सेनटेरी नैपकीन मशीन तथा निराश्रित महिला शबीना बी को सिलाई मशीन की अभिनव सौगात क्लब की प्रेरणा से प्रदान की गई।
देशभक्ति गीतों से दी शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि
अधिकारिक यात्रा कार्यक्रम के दौरान 'मैं रहूं या न रहूं, मेरा भारत रहना चाहिए...Ó गीत पर क्लब की महिलाओं ने सामूहिक नृत्य प्रस्तुत कर पुलवामा हमले के शहीद सैनिकों को श्रद्धाजंलि अर्पित की। इस प्रस्तुति से माहौल देशभक्तिमय हो गया। प्रस्तुति में सपना जैन, अर्चना परिहार, स्वाति शर्मा, रेणु पालीवाल, सपना सिंहल, संगीता पोरवाल ने अभिनय किया। स्वागत नृत्य स्वाति शर्मा वैश्णवी पालिवाल ने प्रस्तुत किया।