पांच सौ पुलिसकर्मी आज रखेंगे कानून-व्यवस्था पर नजर

चित्तौडग़ढ़
अनन्त चतुर्दशी पर्व पर गुरूवार को शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस के करीब पांच सौ जवान मुस्तैद रहेंगे। इनका नेतृत्व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सरितासिंह को सौंपा गया है।
अनन्त चतुर्दशी पर कानून और व्यवस्थाएं बनाए रखने को लेकर बुधवार को पुलिस अधीक्षक अनिल कायाल ने पुलिस अधिकारियों की बैठक ली और प्रतिमा विसर्जन जुलूस के दौरान पूर्ण सतर्क रहते हुए कार्यक्रम शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न करवाने के निर्देश दिए। कयाल ने बताया कि जिले में गुरुवार को मनाए जाने वाले अनंत चतुर्दशी पर्व पर गणेश प्रतिमाएं जुलूस के रूप में निकाली जाकर जल में विसर्जित की जाएगी। उन्होंने कहा कि धार्मिक दृष्टि से युवाओं में अति उत्साह रहता है। इस दौरान पुलिसकर्मियों को पूर्ण सतर्क रहने के निर्देश दिए गए। चित्तौडग़ढ़ शहर में एक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक व दो पुलिस उप अधीक्षक के नेतृत्व में करीब 500 का पुलिसकर्मियों का जाप्ता झांकियों के साथ जुलूस के मार्ग व विसर्जन स्थल आदि पर तैनात रहेगा। मुख्य चौराहों पर स्थाई पिकेट लगाए गए है।
इमारतों की छतों पर भी तैनात रहेंगे जवान
जुलूस के मुख्य मार्ग पर ऊंची इमारतों को चिन्हित कर उनकी छतों पर भी पुलिस जाप्ता लगाया गया है। शराब पीकर जुलूस में शामिल होने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है।

एएसपी ने ली डीजे संचालकों की बैठक
एएसपी सरिता सिंह ने डीजे संचालकों की मीटिंग लेकर उन्हें नियमों में रहने के लिए पाबंद किया है। उन्होंंने कहा कि डीजे के स्पीकरों पर बैठने पर मनाही रहेगी। विसर्जन स्थल से लौटते समय डीजे बंद रखने होंगे।
यह रहेगी यातायात व्यवस्था
यातायात प्रभारी मदनलाल ने बताया कि जुलूस के दौरान शहर के विभिन्न स्थानों पर यातायात डायवर्सन व बैरिकेटिंग लगाकर यातायात व्यवस्था की जाएगी। जुलूस के मार्ग को सामान्य यातायात से मुक्त रखा जाएगा। शहर के अंदर आने वाले यातायात के लिए महाराणा प्रताप सेतु मार्ग को काम में लिया जाएगा। जुलूस के गांधी चौक से रवाना होने से गोल प्याऊ व विसर्जन स्थल तक एवं समाप्ति तक यातायात पर प्रतिबंध रहेगा। सुभाष चौक, अप्सरा चौराहा, गंभीरी नदी पुलिया से पहले विशेष यातायात व्यवस्था रहेगी। कलक्ट्री चौराहा से कोटा की तरफ जाने वाले हल्के वाहन अजमीढ़ चौराहे से कुकड़ा रेजीडेंसी होते हुए हजारेश्वर मोड़ की तरफ डायवर्ट किए जाएंगे। कोटा की तरफ से आने वाले हल्के वाहनों को हजारेश्वर मोड़ से बस स्टैंड की तरफ डायवर्ट किया गया है। नई पुलिया व मोक्ष धाम से कोटा की तरफ जाने वाले यातायात को गांधीनगर होते हुए फोरलेन की तरफ डायवर्ट किया गया है। सेमलपुरा से भारी वाहनों का शहर में प्रवेश निषेध रहेगा।