पहाडिय़ों के बीच नाले में 6 भट्टियां नष्ट, 120 लीटर शराब की जब्त

चुनाव में बांटने के लिए बनाई जा रही थी शराब
पुलिस जाप्ते को देख भाग छूटे आरोपी
पुलिस की सबसे बड़ी कार्रवाई
प्रतापगढ़/सालमगढ़ . विधानसभा चुनाव को देखते हुए सालमगढ़ पुलिस ने खुफिया तंत्र की सूचना पर बुधवार शाम को राजस्थान-एमपी सीमा पर पहाडिय़ों के बीच महुए की शराब की भट्टिया नष्ट की है। इस दौरान शराब बना रहे आरोपी पहडिय़ों के रास्ते से भाग छूटे। मौके पर 18 ड्रमों में बनाई जा रही वॉश नष्ट की है। वहीं 120 लीटर महुए की देसी शराब मिली। पुलिस के अनुसार इतनी भारी मात्रा में देशी शराब को विधानसभा चुनाव में बांटने के लिए बनाई जा रही थी।
सालमगढ़ थाना प्रभारी बुद्धाराम विश्नोई ने बताया कि पुलिस के खुफिया तंत्र से पुख्ता सूचना मिली कि राजस्थान के अंतिम छोर पर सालमगढ़ थाना क्षेत्र के चैकली पीपली के पास पहाडिय़ों के बीच में नाले पर देसी शराब की भट्टियां चलाई जा रही है। इस शराब को विधानसभा चुनाव में बांटी जाएगी।इस पर वृत्त निरीक्षक जयदेव सिहाग के नेतृत्व में चुनाव में लगी दो मोबाइल टीमों के साथ सालमगढ़ पुलिस का जाप्ता मौके पर पहुंचा।जहां वाहनों को पहाड़ी पर ही खड़ी की गई।इसके बाद पुलिस टीमे पैदल ही पहाड़ी से उतरी। पहाडिय़ों से दूर से ही पुलिस टीम को देखकर वहां शराब बना रहे लोग भाग छूटे। नाले पर पहुंची पुलिस ने मौके से 6 भट्टियां नष्ट की।वहीं 18 ड्रमों में वॉश मिली। इस दौरान दो रबर के ट्यूबों में देसी शराब 120 लीटर को जब्त की गई।प्रत्येक ड्रम में 200 लीटर, 3 एल्यूमिनियम के बड़े बर्तन सहित छह भट्टियों पर करीब 4 हजार लीटर कच्चा महुए वॉश मिला।यहां शराब बनाने के बर्तन भी मिले। कच्चे महुआ की वॉश को मौके पर नष्ट किया गया। आबकारी अधिनियम में मामला दर्ज किय गया। आरोपियों की तलाश की जा रही है।

शराब की दुकानों को किया सील
प्रतापगढ़ विधानसभा चुनाव के तहत जिले में शराब की दुकानों को बुधवार को सील किया गया।सहायक आबकारी अधिकारी धनेश खटीक ने बताया कि बुधवार शाम पांच बजे से शुक्रवार शाम 5.30 बजे तक सूखा दिवस घोषित किया गया। इस पर जिले में संचालित देसी एवं अंग्रेजी शराब की दुकान को सील किया गया। इसके तहत गोदाम, होटल, बार आदि बंद रहेंगे। इस दौरान शराब के सरकारी डिपो भी बंद रहेंगे। सूखा दिवस की पालना में जिला आबकारी अधिकारी मुकेशकुमार देवपुरा ने जिले के आबकारी सीआई एवं थानेदारों को अपने-अपने क्षेत्र को सतर्क रहने के निर्देश दिए है।