पहले कार में बिठाया फिर गला घौंटा और पटरी पर शव रख हुए फरार

मंदसौर
शामगढ़. के१७ फरवरी को धामनिया दिवान फाटक के पास मिले शव के पास मिले परिचय पत्र ने पुलिस को आरोपियों तक पहुंचा दिया। पुलिस ने जब आरोपी को पकड़कर पूछताछ की तो उसने साथी के साथ हत्या करना कबूल कर लिया। पुलिस ने दूसरे साथी को भी गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को न्यायालय में पेश किया, जहां से दोनों को दो दिन के पुलिस रिमांड पर पुलिस को सौंपा गया।
थानाप्रभारी संजय चौकसे ने बताया कि १७ फरवरी को धामनिया दिवान की फाटक पर एक ६५ वर्षीय व्यक्ति का शव मिला था। जिसकी शिनाख्त भगवानलाल पिता हिरालाल निवास बरखेड़ा लोया थाना गरोठ के रूप में हुई थी। पुलिस को मौके से एक परिचय पत्र मिला था। जो रामपुरा के राजू उर्फ हरिशंकर मेघवाल का था। जब राजू से पूछताछ की तो उसने सच कबूल कर लिया।
कार में घोंटा गला और शव को रखा पटरी पर
थानाप्रभारी चौकसे ने बताया कि राजू की लड़की और भगवान लाल के पौते ने शादी कर ली। राजू लड़की को कई दिनों से ढूंढ रहा था। १७ फरवरी को राजू अपने साथी जगदीश मेघवाल के साथ कार से बरखेड़ा लोया गया। वहां पर भगवानलाल को उठाया और कार में बिठाया। उसके बाद बरखेड़ा लोया और गरोठ के बीच में राजू ने भगवान लाल का गला घौंट दिया। उसके बाद कार से धामनिया फाटक आए और यहां पर ट्रेन की पटरी पर शव को पटरी पर रख दिया। और दोनों फरार हो गए। थानाप्रभारी चौकसे ने बताया कि आरोपियों से कार बरामद कर ली गई है। दोनों को रिमांड पर लिया गया है।

000000

भानपुरा में उपचार के लिए लाई गई 22 वर्षीय महिला की मौत, मर्ग दर्ज
भानपुरा
समीपस्थ ग्राम राता गुराडिया से उपचार के लिए भानपुरा के एक निजी चिकित्सालय में लाई गई २२ वर्षीय महिला की मौत हो गई। 22 वर्षीय महिला की मौत हो जाने पर मृतक के परिजन केशरसिंह की शिकायत पर रिपोर्ट पर मर्ग दर्ज किया गया। पुलिस थाना भानपुरा ने बताया कि मृतक महिला कुंता बाई पति नटराजसिंह सोंधिया राजपूत 22 वर्ष को बुखार एवं दस्त लगने पर लोटखेडी़ रोड भानपुरा स्थित डॉ विनोद धाकड़ के निजी चिकित्सालय में उपचार के लिए लाया गया था। इलाज के दौरान 22 वर्षीय महिला कुंता बाई की शुक्रवार 22 फरवरी की शाम 6 बजे मौत हो गई। पुलिस भानपुरा ने मर्ग दर्ज कर मामला जांच में लिया है