पत्नी बनानेे का झांसा देकर किया दुष्कर्म, खाफ का फरमान नहीं माना तो पंचों ने पीड़िता के परिवार को समाज से बहिष्कृत कर किया डेढ लाख का जुर्माना

काछोला।
एक पीडि़ता को पत्नी का झांसा देकर उसके साथ डेढ़ माह तक बलात्कार किया और उसे घर से भगा दिया। जब पीडि़ता अपने पिता के पास आई तो पिता ने भी उसे घर से बाहर निकाल दिया। उल्लेखनीय है कि पिता का सिर्फ कसूर यह था कि पिता पंच पटेलों द्वारा कहीं परिवार को समाज से बहिष्कृत न कर दे। इसलिए कि पीड़िता ने काछोला थाने में अपने विरुद्ध हुए अन्याय को लेकर रिपोर्ट दर्ज करा दी थी।

 

पंचायत का फरमान

पंचों का मानना है पीड़िता ने थाने में रिपोर्ट दर्ज क्यों कराई। समाज के स्तर पर ही फैसला करना था। पंचों ने आरोप लगाया कि पीड़िता दो साल से बसों में सफर कर रही है। इससे समाज बदनाम हो रहा है। लड़की को बीएड मत करवाओ। हम कहे जहां नाता विवाह कर दो। इसका घर बसा दो। यह दबाव निरंतर लडक़ी व लडक़ी के पिता पर पंच पटेलों द्वारा बनाया जा रहा है। पंचायत का फरमान मानने को पीड़िता का परिवार तैयार नहीं हुआ तो उन्होंने परिवार को समाज से बहिष्कृत कर 1 लाख 51 हजार का आर्थिक दंड का संदेश समाज में दे दिया।


यह है मामला

चित्तौड़गढ़ जिले के गंगरार थाना क्षेत्र के फागनिया निवासी नारायणनाथ एक सामाजिक कार्यक्रम में क्षेत्र के धनिया गांव में आया हुआ था। जहां उसकी मुलाकात पीड़ि़ता से हुई और वह पीड़िता को बहला—फुसलाकर पत्नी बनाने का झांसा देकर साथ ले गया। पीडि़ता ने काछोला थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई जिसमें बताया कि पीडि़ता के साथ नारायण नाथ ने डेढ़ माह तक दुष्कर्म किया। उसके पिता भवानी नाथ द्वारा एक बोलेरो गाड़ी की मांग की मांग पूरी नहीं होने पर उसे घर से बाहर निकाल दिया। जिस पर वह अपने पिता के घर आ गई। पिता ने बेटी का भविष्य सुधारने के लिए पहले तो पंच पटेलों एवं उसके बाद नारायण के पिता एवं नारायण को इस बारे में उलाहना दिया। लेकिन वे नहीं माने तो पिता ने निर्णय लिया कि बेटा तुझे अच्छी शिक्षा दिलाकर पैरों पर खड़ा किया जाएगा। यह नारायण व उसके पिता को कतई मंजूर नहीं था। उसने कार एवं बीएड शिक्षा को छोडऩे का दबाव बनाया जिससे पीडि़ता ने काछोला थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।


इनका कहना

पीड़िता ने नारायण नाथ एवं समाज के पंच पटेलों के विरुद्ध काछोला थाने में प्राथमिकी रिपोर्ट दर्ज कराई है पीड़िता की आप बीती सुनकर मामला दर्ज कर लिया है। अनुसंधान जारी है।

राजेंद्रसिंह ताडा, थाना प्रभारी काछोला