नमकीन बनाने की फैक्ट्री को किया सील, रसगुल्ले फिकवाएं

मंदसौर
खाद्य एवं औषधी विभाग द्वारा शुक्रवार को शामगढ़ में कई जगह कार्रवाईयां की गई। यहां पर एक नमकीन बनाने की फैक्ट्री को लाइसेंस नहीं बताने पर सील किया। साथ ही पाम आइल का सेंपल भी लिया। इसके अलावा बीकानेर मिष्ठान भंडार से अधिकारियों द्वारा मावे का सेंपल लिया गया। यह तीन सेंपल खाद्य विभाग द्वारा भोपाल प्रयोगशाला में शनिवार को भेज जाएंगे। कार्रवाई के दौरान नगर में चर्चा का दौर जारी था।
जानकारी के अनुसार खाद्य विभाग के निरीक्षक कमलेश जमरे, तहसीलदार अजय पाठक, थानाप्रभारी बलवीर सिंह यादव, पटवारी नितिन कटलाना व एएसआई गिराशंकर शर्मा माकड़ी माता रोड पर स्थित श्रया नमकीन फैक्ट्री पर पहुंचे। यहां पर खाद्य निरीक्षक जमरे ने फैक्ट्री मालिक विश्वास धनोतिया से फैक्ट्री संचालित करने का लाइसेंस मांगा। तो फैक्ट्री संचालक विश्वास धनोतिया ने अधिकारियों को बताया कि लाइसेंस बैंक में लोन के लिए दे रखा है। उनके नाम पर जिस जगह फैक्ट्री थी। वह उन्होंने बंद कर दी है। अब श्रीआर ट्रेडिंग कंपनी के नाम से लोन लेकर फैैक्ट्री बनाई है। उसका लाइसेंस अभी नहीं लिया है। जगह बदले जाने के कारण खाद्य अधिकारी कमलेश जमरे द्वारा फैक्टरी को सील कर दिया गया। संचालक विश्वास का कहना था कि लोन प्रक्रिया में लाइसेंस बैंक में दिया था आज उपलब्ध हो जाएगा।
कमलेश जमरे का कहना फिलहाल लाइसेंस नहीं दिखाने पर फैक्टरी सील की जा रही है दिखाने पर सील हटा देंगे। यहां से पाम आइल और नमकीन का सेंपल लिया है। उसके बाद तहसीलदार अजय पाठक के नेतृत्व में टीम पाटीदार कॉलोनी बीकानेर मिष्ठान भंडार के कारखाने पर पहुंची। जहां जाकर उन्होंने फ्रिज में रखें फि के मावे का सैंपल लिया।
रसगुल्लों में मच्छर, फिकवाएं
खाद अधिकारी अमले के साथ स्टेशन रोड पर श्रीधर मिष्ठान भंडार पर पहुंचे। यहां पर संचालक से मिठाई बनाने की जगह पूछी। तो ऊपर कमरे बताया गया। इस पर कमरे की जांच की गई। जहां पर रसगुल्ले का तपेला रखा हुआ था। जिसमें मच्छर थे। जिसको सड़क पर फिकवाया गया। खाद्य निरीक्षक ने कहा कि ऊपर कमरे में ५ किलो रसगुल्लों में मच्छर थे। इसलिए फिकवाया गया।