दिनभर उमस के बाद शाम को झूमकर बरसे बदरा

प्रतापगढ़. शहर सहित जिले के विभिन्न स्थानों पर गुरुवार को दिनभर उमस के बाद शाम को तेज बारिश हुई। यहां सुबह से ही आसमान में बादल छाए रहे। दोपहर में हल्की बूंदाबांदी भी हुई लेकिन वह कुछ ही देर में थम गई। शाम करीब साढ़े तीन बजे से आसमान घने काले बादलों से घिर गया और करीब साढ़े 4 बजे तेज बारिश शुरू हो गई। करीब आधे घंटे तेज बारिश हुई। इसके बाद रिमझिम होती रही।
मौसम हुआ सुहाना
बारिश से पूर्व उमस के चलते लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। बारिश के बाद मौसम सुहाना हो गया और लोगों को उमस से राहत मिली।

बुधवार सुबह 8 से गुरुवार सुबह 8 बजे तक बारिश
स्थान बारिश
प्रतापगढ़ 22 एमएम
अरनोद 05 एमएम
छोटीसादड़ी 29 एमएम
धरियावद 01 एमएम
पीपलखूंट 02 एमएम

 

 

 

 

मिनी सचिवालय में लगाए 101 पौधे
प्रतापगढ़.मिनी सचिवालय परिसर में शुक्रवार को 100 पौधे लगाए गए। जिला कलक्टर भंवरलाल मेहरा सहित जिला स्तरीय अधिकारियो एवं कर्मचारियो ने मिनी सचिवालय परिसर में पौधरोपण किया। लगाए गए पौधो की सुरक्षा, पानी एवं फैंसिंग आदि व्यवस्था के लिए नगर परिषद, विद्युत निगम एवं मारूति उद्योग के दीपक प्रजापत ने जिम्मेदारी ली। जिला कलक्टर ने शीशम का पौधा लगाकर पौधारोपण कार्यक्रम की शुरूआत की । अतिरिक्त जिला कलक्टर हेमेन्द्र नागर, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. वीसी गर्ग, उपवन संरक्षक अमरसिंह, जनजाति परियोजना अधिकारी सुमन मीणा, तहसीलदार योगेन्द्र जैन, जिला कोषाधिकारी रामप्रकाश शर्मा, बिजली विभाग के अधीक्षण अभियंता आईआर मीणा, जलग्रहण विभाग के अधीक्षण अभियंता एमआई खान, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक जेपी चांवरिया, जिला खेल अधिकारी गिरधारी सिंह चौहान सहित जिला स्तरीय अधिकारियो एवं कर्मचारियो ने विभिन्न प्रजाति के पौधे रोपे। सहायक उपवन संरक्षक सुबोध राजपूत ने बताया कि वन मण्डल प्रतापगढ़ एवं जिला प्रशासन की ओर से आयोजित इस पौधारोपण में नीम, गुलमोर, पीपल, शीशम सहित 101 छायादार पौधे लगाये गए।


दो महिला समेत चार तस्करों को सजा
प्रतापगढ़ विशिष्ट न्यायाधीश सुनीलकुमार पंचोली ने तस्करी के मामले में दो महिला समेत चार अभियुक्तों को सजा सुनाई है। दोनों पर अर्थदंड भी लगाया गया है।
विशिष्ट लोक अभियोजक सुखराम मईड़ा ने बताया कि अरनोद पुलिस ने 29 सितम्बर 2010 को हमजाखेड़ी रोड पर नाकाबंदी की थी। यहां से दो युवक और दो महिलाएं पैदल आते दिखे। जो पुलिस को देखकर भागने लगे। पुलिस ने तीन को पकड़ लिया। जबकि एक महिला भाग गई।
पुलिस ने इनकी पहचान मोहनलाल पुत्र फुला मीणा निवासी हमजाखेड़ी, धारजी पुत्र हवजी मीणा, रकमाबाई पत्नी फणिया मीणा निवासी हिरियागढ़ी थाना दानपुर जिला बांसवाड़ा, भागने वाली महिला की पहचान रमिला पत्नी नागू मीणा निवासी हल्दुपाड़ा थाना पाटन जिला बांसवाड़ा बताई। चारों के पास से 35 किलो डोडा चूरा पकड़ा था। बाद में पुलिस ने भागी रमिला को भी गिरफ्तार किया। चारों के खिलाफ न्यायालय में चालान पेश किया गया।न्यायालय ने मोहनलाल को एक वर्ष और तीनों को 10-10 माह की सजा सुनाई है। सभी पर 10-101 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया है।