तंबाकू उत्पाद की कालाबाजारी पर नहीं अंकुश

भीलवाड़ा।
जिले में तंबाकू उत्पादों की कालाबाजारी रोकने में प्रशासन नाकाम साबित हो रहा है। तय की कीमत से दुगुनी राशि वसूलने की शिकायतों के बाद भी प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। ये तंबाकू उत्पाद अब भी तय कीमत से दुगनी दर पर बेचे जा रहे हैं। स्टॉकिस्ट और कारोबारी माल की कमी बताकर अधिक कीमत ले रहे हैं।
तंबाकू विक्रेताओं का कहना है कि एक कम्पनी के 50 पैक वाले डिब्बे की रेट 210 रुपए तय है। थोक कारोबारी इसके लिए 250-२७५ रुपए वसूल रहे हैं। इसी तरह बीड़ी, सिगरेट के भी ज्यादा दाम लिए जा रहे हैं।
थोक में दाम बढ़े तो खुदरा भाव भी दुगने हो गए
थोक व्यापारियों की ओर से अधिक दर वसूलने से खुदरा मार्केट में तंबाकू उत्पाद दुगुनी दरों पर बेचे जा रहे हैं। इसमें पांच रुपए वाला पान मसाला उत्पाद १० रुपए, 10 रुपए वाला पान मसाला २० रुपए तक बेचा जा रहा है। तंबाकू की पांच रुपए की पुडिय़ा 20 और 10 रुपए कीमत की पुडिय़ा 30 रुपए में बिक रही है। इसके अलावा ब्रांडेड 25 की जगह ४० रुपए और पांच रुपए के 20 और 10 की पैकेट 30 रुपए में बेच रहे हैं।
यहां कर सकते हैं शिकायत
कालाबाजारी की शिकायत जिला कलक्टर और जिला रसद अधिकारी को कर सकते हैं। संपर्क पोर्टल पर भी शिकायत की जा सकती है। जिला रसद कार्यालय में इसके लिए एक प्रकोष्ठ भी है। शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं हो तो उपभोक्ता मंच में भी शिकायत की जा सकती है।