टूटी-फूटी सड़के देखने कौन निकला शहर में, उभरी जनता की पीड़ा


चित्तौडग़ढ़. नगर परिषद सभापति पद पर मनोनीत किए गए संदीप शर्मा कार्यभार ग्रहण करने के अगले ही दिन परिषद आयुक्त, तकनीकी अधिकारी एवं कर्मचारीयों के साथ शहर की खस्ताहाल सडको का जायजा लेने निकल पड़े। सभापति को आया देख लोगों ने बारिश व सीवरेज के कारण उखड़ी व गड्ढो में तब्दील हो रही सड़कों के कारण हो रहे दर्द को भी बयां कर दिया। शर्मा ने लोगों से वादा किया कि अतिवृष्टि या सीवरेज किसी भी कारण से सड़क क्षतिग्रस्त हुई तो उनकी मरम्मत दिवाली पूर्व करा दी जाएगी। सभापति संदीप शर्मा ने शहर के गांधी चौक, गोल प्याऊ, देहली गेट, सब्जी मण्डी, राणा सांगा बाजार, न्यू क्लॉथ मार्केट आदि क्षेत्रों का दौरा किया। उन्होंने परिषद के अधिकारियो को दीपावली से पूर्व शहर की सभी प्रमुख सडको पर जहां नवीनीकरण की आवष्यकता है वहां नवीनीकरण तथा जहां मरम्मत की जा सकती है वहां मरम्मत की तुरन्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इस दौरान सीवरेज लाईन का कार्य कर रहे प्रतिनिधियो को भी जहॉ जहां सीवरेज लाईन खोदी गई है, उनको दिवाली तक दुरूस्त कर सड़क निर्माण करने के निर्देश भी दिए। चन्द्रलोक टॉकीज के पास सीवरेज से निकल रहे पानी को भी पम्प की सहायता से निकालकर सीवरेज लाईन को दुरूस्त करने के निर्देश दिए गए। सभापति संदीप शर्मा ने बताया कि, दीपावली से पूर्व शहर की सभी प्रमुख सडको को ठीक कर दिया जाएगा तथा सीवरेज से टूटी सडको को भी दिवाली से पूर्व ही सही करवाया जाएगा।

दो दिन में सर्वे कर मांगी रिपोर्ट
शर्मा ने परिषद के तकनीकी अधिकारीयों को आगामी 2 दिन मे गत दिनो हुई अतिवृष्टि से शहर की क्षतिग्रस्त हुई सड़को एवं नालियों का भी सर्वे कर विस्तृत रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए ताकि राज्य सरकार से विशेष बजट स्वीकृत कराया जा सके। निरीक्षण के दौरान तय हुआ कि गोराबादल स्टेडियम में आवारा मवेशियों का प्रवेश रोकने एवं वाहनों की भीड़ रोकने के लिए मुख्य गेट बंद रहेगा। इसके बदले वहां रिवॉल्विंग गेट लगाया जाएगा। किसी कार्यक्रम के लिए आवश्यकता होने पर मुख्यगेट खोल दिया जाएगा। दौरे में उनके साथ परिषद आयुक्त नारायणलाल मीणा, अधिशासी अभियन्ता सूर्यप्रकाश सेंचती, कनिष्ठ अभियन्ता नरेन्द्रसिंह, पार्षद विजय चौहान, नवीन पटवारी आदि मौजूद थे।

सफाई कर्मचारियों को मिलेंगे जैकेट
सभापति शर्मा ने शहर के दौरे के बाद नगर परिषद में सफाईकर्मियों की बैठक ली। उन्होंने परिषद अधिकारियों एवं कर्मचारियों की भी अलग से बैठक ली। सभापति ने शहर की सफाई व्यवस्था सुधारने पर जोर देते हुए बताया कि सफाई कर्मचारियों को पहचान के लिए एक जैकेट दिया जाएगा जिसके पीछे नगर परिषद चित्तौडग़ढ़ अंकित होगा। रात में सफाई करते समय सुरक्षा की दृष्टि से जैकेट के पीछे रेडियम भी लगाया जाएगा।

फायरमेन का तय होगा ड्रेस कोड
बैठक में दमकल विभाग से कहा गया कि वे सर्वे कर उनकी जो भी मांग हो उसका प्रस्ताव दे। फायरमेन का ड्रेस कोड भी तय करने के लिए कहा गया। प्रतिदिन शाम को फायरमेन की परेड भी परिषद में होगी।

दर्ज होने के २४ घंटे में करना होगा शिकायत समाधान
बैठक में सामने आया कि शहर की करीब ४० प्रतिशत रोड लाइट खराब है। इससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस पर सम्बन्धित कंपनी के प्रतिनिधि ने कहा कि उनके पास शिकायत नहीं आ रही है। सभापति ने कहा कि बिना शिकायत आए भी उनको पता होना चाहिए कि शहर में कहा क्या हो रहा है। उन्होंने निर्देश दिए कि शिकायत दर्ज होने के २४ घंटे में रोड लाइट संबंधी समस्या का समाधान नहीं हो तो कंपनी के भुगतान से पैसा काटा जाए।