जिला कलक्टर ने ली राजस्व अधिकारियों की बैठक

प्रतापगढ़. जिले में राजस्व प्रकरणों के निस्तारण को लेकर मंगलवार को जिला कलक्टर अनुपमा जोरवाल की अध्यक्षता में मिनी सचिवालय में राजस्व अधिकारियों की बैठक हुई। जिला कलक्टर ने अधिकारियों से कहा कि वे राजस्व प्रकरणों का त्वरित निराकरण करें एवं नियमित रूप से कार्यालयों का निरीक्षण भी करें। जिला कलक्टर ने बैठक में रोडा एक्ट के बकाया प्रकरणों को निस्तारित करने के निर्देश दिए। उन्होंने भ्रमण के दौरान निरीक्षण करने तथा नियमित रूप से सरकारी कार्यालयों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उन्होंने बैठक में बकाया पेंशन प्रकरणों का निस्तारण करने एवं एमएसीटी प्रकरणों में कार्यवाही कर राहत प्रदान करने के निर्देश दिए। बैठक में विधानसभा प्रश्नों के जवाब तैयार कर भिजवाने के निर्देश भी दिए।

राजस्व अधिकारियों की बैठक में उपखण्ड अधिकारी प्रतापगढ़ विनोद कुमार मल्होत्रा ने बिना मुंडेर के कुंओं की सूची तैयार कर लोगों से मुंडेर बनवाने के लिए सभी उपखण्ड अधिकारियों एवं तहसीलदारों को निर्देश दिए। उन्होंने आरसीएमएस पोर्टल पर निर्णय पारित कर अपलोड करने, भूमि अवाप्ति, जमाबंदी एवं 16 सीसीए की जांच कर भिजवाने सहित विभिन्न राजस्व प्रकरणों पर अधिकारियों को निर्देशित किया। इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी छोटीसादड़ी बिन्दुबाला राजावत, उपखण्ड अधिकारी अरनोद विजयेश पड्या सहित तहसीलदार एवं संबंधित राजस्व अधिकारिगण उपस्थित रहे।

जिला स्तरीय निष्पादन समिति की बैठक सम्पन्न

प्रतापगढ़.जिला स्तरीय निष्पादन समिति की बैठक जिला कलक्टर अनुपमा जोरवाल की अध्यक्षता में मिनी सचिवालय में आयोजित हुई। बैठक में चार दिवारी विहीन विद्यालयों में दिवार बनवाने एवं शौचालय एवं विभिन्न संसाधनों की समीक्षा कर अधिकारियों को निर्देशित किया गया। जिला कलक्टर ने बैठक में मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी युगल बिहारी दाधीच से जिले में चार दिवारी विहीन विद्यालयों में चार दिवारी निर्माण कार्य करवाने, खेल मैदान विकास आदि कार्यो की समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने उपस्थित जिला स्तरीय अधिकारियों से कहा कि प्रभारी मंत्री द्वारा 23 अक्टूबर को सर्किट हाउस में आयोजित होने वाली जनसुनवाई व मिनी सचिवालय में आयोजित होने वाली जिला स्तरीय समीक्षा बैठक में पूर्ण तैयारी के साथ उपस्थित रहने के निर्देश भी दिए।इस अवसर पर पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. लालमणी त्रिपाठी, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक डॉ. शांतिलाल शर्मा, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. ओपी दायमा, सहायक उपवन संरक्षक सुबोध राजपुत सहित निष्पादन समिति के सदस्य एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।