चारभुजा व रूपनारायाण मंदिर पर चढ़ाई ध्वजा

प्रमोद भटनागर
चारभुजा. गोडवाड़ व मेवाड़ क्षेत्र के पीपा क्षत्रिय दर्जी समाज द्वारा यहां प्रभु चारभुजानाथ मंदिर व सैवन्त्री रूपनारायण मंदिर पर सोमवार को धूमधाम से ध्वजा चढ़ाई गई।
समाज के चारभुजा चौखला के प्रकाश टेलर ने बताया कि मारवाड़ पीपा क्षत्रिय दर्जी भिमालिया मंदिर चारभुजा ट्रस्ट के द्वारा सैवन्त्री मंदिर पर 141 हाथ की ध्वजा व चारभुजानाथ के मंदिर पर 111 हाथ की ध्वजा परंपरागत रूप से चढ़ाई गई। इससे पूर्व चारभुजा में दर्जी समाज की धर्मशाला से थाल में ध्वजा को रखकर फूल-मालाओं के साथ गाजे-बाजे पर भक्ति गीातों व मृदंग की थाप पर नाचते गाते मंदिर के लिए रवाना हुए। मार्ग में लोगों ने पुष्प वर्षा भी की। इस दौरान समाज के लोग एक-दूसरे के सिर पर ध्वजा रखते हुए चल रहे थे। वहीं, महिलाएं गीत गाते हुए चल रही थी। मंदिर पहुंचने के बाद ध्वजा को चारभुजानाथ के चरणंों मे रखा तथा वहा सें लम्बी कर बाहर मुख्य दरवाजा पर बांधी तथा वहां से मंदिर के सभी गुमट पर बांधी। पुजारी समाज के रूपलाल वगडवाल द्वारा निज मंदिर पर ध्वजा को बांधकर नीचे दी गई, जहां मंदिर परिसर में उपस्थित समाजजनों ने सिर पर लगाकर परिवार में कुशल मंगल की कामना की। ध्वजा रस्म के बाद सभी समाजजन समाज के नोहरे मे पहुंचे, जहां पर बैठक कर समाज के उत्थान पर चर्चा की गई। इस दौरान समाज के मारवाड़ से गेवरमल टेलर, भेरूलाल, करण दिवान, मांगीलाल डाबी, पेमालाल, धन्नालाल टेलर एवं मेवाड़ से रूपलाल सोलंकी, दिलीप चौहान, प्रकाश धनेरिया, भंवरलाल, बंशीलाल टेलर, शांतिलाल टेलर, हेमराज, मांगीलाल, गणपत टेलर, कमलेश, कैलाश, कुलदीप, जीवन टेलर मौजूद थे।