गौशाला की भूमि पर विक्रम फेक्ट्री द्वारा किया जा रहा था कब्जा- गोसेवकों ने रुकवाया

अपना जावद @ नोशाद अली
एक तरह मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार अपना चुनावी वादा लेकर सत्ता में आई है की मध्यप्रदेश में गौशाला खेलेगे, गौशाला निर्माण कर गाय को उसमे रखा जावेगा यही नही बीते दिनों मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार के आदेश पर संत महामंडलेश्वर 1008 श्री श्री मिर्ची बाबा भी नीमच जिले में गौशालाओं में गाये किस तरह सुरक्षित है वह उनके द्वारा निरीक्षण किया गया था। वही दूसरी ओर गौशाला के लिए दान में मिली भूमि को राजनैतिक नेताओ की मिलीभगत के चलते गौशाला की भूमि को सत्ताधारी नेताओ एवं स्थानीय सहित जिले के बड़े बड़े प्रशासनिक अधिकारीयों से साठगांठ करके जिले की प्रसीद्ध विक्रम सीमेंट फेक्ट्री अपना हक जमाते हुए पड़यंत्र रच कर हडपने का काम कर रही है। यह कहना है विश्व हिन्दू परिषद के गोसेवा प्रमुख प्रकाश सैन का, उन्होंने आगे बताया की कल हमे सुचना मिली थी की ग्राम मोरका स्थित गौशाला निर्माण के लिए दान की भूमि पर विक्रम सीमेंट द्वारा उक्त भूमि पर कुछ किया जा रहा है जिस पर हम तत्काल मोके पर पहुच कर कार्य को रुकवाया गया है। और आज दोपहर को इसकी शिकायत जावद पुलिस थाणे में दर्ज की गई है। शिकायत के माध्यम से हमने प्रशासन को बताया की श्रीराम गौशाला की गायो के चरने हेतु भूमि जिसका सर्वे नम्बर 10 रकबा 12 हेक्टर 13 आरी भूमि जो ग्राम मोरका तहसील जावद जिला नीमच में स्थित है इसी के साथ 8 हेक्टर भूमि गोशाला कि जो सिलिग एक्ट से अवैध रूप से कम कर दी गई है जिसका मालिक व भूमि स्वामी श्रीराम गौशाला ही है। उक्त भूमि गौशाला को नगर जावद के प्रतिष्ठित व्यक्तियो ने दान की है गौशाला की उक्त भूमि विक्रय नही होती है इसके उपरान्त भी अध्यक्ष शिखरमल चोपड़ा व सुधीरकुमार पिता जगन्नाथ अग्रवाल के द्वारा विक्रय कर दी है जिसका एक दिदानी बाद जिला एवं सत्र न्यायाधीश के समक्ष विचाराधीन होकर जिसमे साक्ष्य चल रही है उपरोक्त व्यक्तियो ने उक्त भूमि मेसर्स ग्रासिम इण्डस्ट्रीज बिरला यान नागदा को अवैध रूप से विक्रय कर दी है। भूमि पर सम्मानिय उच्च न्यायालय द्वारा भी क्रेता मेसर्स ग्रासिम इण्डस्ट्रीज बिरला ग्राम नागदा वाद के दौरान अवैध रूप से कब्जा नही करे। इस सम्बंध में स्थगन दिया है। जिसका आज से पूर्व कई वर्षो से गोशाला की विवादित भूमि जिसके सम्बंध में वाद चल रहा है उस पर सड़क का निमार्ण करने हेतु मिटटी डालना शुरू कर दिया है जिसे अविलम्ब रोका जाना न्यायोचित एवं आवश्यक है। इसके पूर्व भी उपर अवैध मटेरियल डालने का प्रयास किया था जिसकी शिकायत द्वारा बताया भी गया है। जिसे पुलिस के द्वारा रोका गया ऐसी स्थिति में मांग भी गई कि अविलम्ब सडक निमार्ण मिटटी डालने का प्रयास किया जा रहा है उसे तुरन्त प्रभाव से रोका जाये।