गीली लकड़ी से भरा ट्रक जब्त, चालक गिरफ्तार

उदयपुर/ परसाद. परसाद वन रेंज क्षेत्र के तहत गिर्वा ब्लॉक के बारापाल वन नाका स्टाफ ने खैर की गीली लकड़ी से लदा ट्रक पकड़ा। साथ ही अवैध परिवहन में लिप्त वाहन चालक को भी गिरफ्तार किया।
विभाग के उपसंरक्षक अजय चित्तौड़ा के निर्देशन में जारी अभियान के तहत मुखबिर की सूचना पर शनिवार शाम को रेंजर शांतिलाल मेघवाल ने रात्रिकालिन गश्त के लिए वनपाल भगवतीलाल मीणा, वनरक्षक भरतसिंह, जितेन्द्रसिंह, राजू मीणा एवं खरपीणा नाका इंचार्ज कान्तिलाल मीणा की टीम को नाकाबंदी के निर्देश दिए। इस बीच खजूरी वन क्षेद्ध से बारापाल की ओर आ रहे ट्रक को जांचने के लिए रोकने के प्रयास किए। इस बीच ट्रक चालक ने विभागीय वाहन को टक्कर मारने की कोशिश की। इससे विभागीय वाहन समीप स्थित बारापाल तालाब में गिरने से बचा। बाद में सजग विभागीय कार्मिकों ने ट्रक को कब्जे में लेकर मोही, राजसमंद निवासी चालक शंकरलाल पुत्र हुकमीचंद तेली को गिरफ्तार किया।
स्कॉटिंग में बाइक व कार
अवैध लकड़ी से भरे ट्रक के आगे स्कॉटिंग करते हुई जीप व दो बाइक गुजरी। तभी रेंजर शांतिलाल मेघवाल की टीम ने सुझबूझ दिखाते हुए बाइक और कार का पीछा नहीं किया। उनके अनुभव के अनुसार इसका फायदा ट्रक चालक को फायदा मिल सकता था। पूछताछ में चालक ने बताया कि संबंधित वाहन उसे उदयपुर के पास किसी होटल में खड़ा करना था। वहां से दूसरा वाहन इन लकडिय़ों को ले जाने वाला था।
जंगल का सफाया
विभाग के रेंजर ने बताया कि लकडिय़ों की तस्करी में कोई बड़ी गेंग सक्रिय है। चोरी छिपे जंगल में हरी लकडिय़ों को काटकर ये गेंग पूरे जंगल का सफाया करने में जुटी है। चालक से गंभीरता से पूछताछ की जा रही है। इसमें कुछ बड़े नामों का खुलासा हो सकता है। इधर, रेंजर मेघवाल ने कहा कि विभागीय वाहन देखकर स्कॉटिंग कर रहे सदस्य भाग निकले। अगर, वह भी हत्थे चढ़ते तो मुख्य लोगों तक पहुंचना आसान हो जाता।