गर्भ में ही शिशु हो संस्कारित – आर्यिका सुप्रकाशमति

 

प्रमोद सोनी/उदयपुर . आर्यिका सुप्रकाशमति ससंघ के सान्निध्य में पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महामहोत्सव में सोमवार को गर्भ कल्याणक उत्तराद्र्ध का आयोजन हुआ। कार्यक्रम में आचार्य अनुभवसागर ससंघ, मुनि पूज्य सागर, आर्यिका प्रज्ञामति ससंघ, आर्यिका प्रसन्नमति ससंघ का भी सान्निध्य मिला। समिति के अध्यक्ष राजेश बी शाह ने बताया कि सुबह जाप्य, अभिषेक, नित्य पूजन, यागमण्डल आराधना हुई। सुबह आचार्य एवं आर्यिकाश्री के प्रवचन हुए। दोपहर में गर्भकल्याणक संस्कार विधि सम्पन्न करवाई गई। दोपहर में तीर्थंकर बालक की गर्भवती माता की गोद भराई गई। समाजजनों ने झूमते-नाचते माता की गोद भराई। रात को राजदरबार में माता के 16 स्वप्न एवं माता से गूढ़ प्रश्न आदि कार्यक्रम हुए। कार्याध्यक्ष ओमप्रकाश गोदावत ने बताया कि प्रतिष्ठा में पं.ऋषभ कुमार जैन एवं संगीतकार संजय जैन एंड पार्टी ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियों दी। सभा में आर्यिका सुप्रकाशमति ने कहा कि ऐसे कार्य करो कि गर्भ में ही बच्चे संस्कारित हो जाए। आजकल माता-पिता जबरदस्ती बच्चों में संस्कार थोपने की कोशिश करते हैं। आधुनिक युग में मां बाप खुद ही संस्कारी नहीं है। पहले माता-पिता को संस्कारी होना पड़ेगा। हेलीकॉप्टर से होगी पुष्पवृष्टिमीडिया प्रभारी विप्लव कुमार जैन ने बताया कि मंगलवार को जन्मकल्याणक महामहोत्सव मनाया जाएगा। सुबह 9 बजे तीर्थंकर बालक की जुलूस निकाला जाएगा। शोभायात्रा में हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा होगी। इसके बाद पांडुक शिला पर 1008 कलशों से अभिषेक, दोपहर 3 बजे राजदरबार में बधाइयां एवं 4.30 बजे आर्यिका एवं आचार्यश्री के मंगल प्रवचन होगे।गरिमा जैन की प्रस्तुति होगी आकर्षणमंगलवार को पंचकल्याणक में रिश्ते चैनल पर प्रसारित नवरंगी रे कार्यक्रम में मेनका का किरदार निभाने वाली टीवी कलाकार गायक एवं डांसर गरिमा जैन अपने नृत्य एवं गायकी से सभी का मनोरंजन करेगी