खेतों में बची खड़ी मक्का की फसलें हुई बरबाद, किसानों को भारी नुकसान

गेन्दलिया। कस्बे सहित भाकलिया, रेणवास, जीत्या, सुठेपा, आमा,बड़ला,दांथल, पिपली सहित क्षेत्र की ग्राम पंचायत के सैंकड़ों गांवों में लगातार बारिश ने किसानों के अरमानों पर पानी फेर दिया। बारिश से मक्का, उड़द, मूंग, तिल की फसल में खासा नुकसान हुआ है। मौसम की मार से किसान आंसू बहा रहे हैं।

पिछले दो माह से झमाझम बारिश से खेतों में खड़ी फसलों को बर्बाद कर दिया। किसान सिर पर हाथ रखे बेबस नजर आ रहे हैं। लगभग 90 प्रतिशत फसलें खेतों में खड़ी बारिश में बरबाद हो चुकी हैं। उड़द,मूंग, तिल, कपास, मक्का की फसल खेत में भरे पानी के कारण गल चुकी है लेकिन अब तक प्रशासन का कोई भी अधिकारी मौके पर गिरदावरी करने नहीं पहुंचा। Maize crop destroyed by rain in Bhilwara

अड़सीपुरा के किसान भगवानलाल तेली किसान ने बताया कि तेज हवाओं के साथ हुई बारिश से खेतों में खड़ी बची हुई मक्का की फसल भी धराशायी हो गयी है जिससे भारी नुकसान हुआ है। मेरे खेत में दो हेक्टर में खड़ी मक्का की फसल तेज बारिश व हवाओं से सारी फसल जमी पर गिर गई। Maize crop destroyed by rain in Bhilwara

गेन्दलिया जीएसएस अध्यक्ष गोपाल तिवाड़ी ने बताया कि बारिश व खेतों में बरसात का पानी भरने से उड़द, मूंग, मक्का व तिल की फसल खराब हो चुकी है। बारिश से फसलें बरबाद हो गई हैं परन्तु प्रशासन से गिरदावरी करने कोई भी अधिकारी नहीं पहुंचा है। Maize crop destroyed by rain in Bhilwara