‘खाली भूखंड बीमारियों को दे रहे हैं न्योता’

‘खाली भूखंड बीमारियों को दे रहे हैं न्योता’
सभापति ने दिया दो दिन का समय, सफाई नहीं हुई तो होंगे सीज

डूंगरपुर. प्रदेश में स्वच्छता की नजीर बन चुका डूंगरपुर शहर कुछ गैर जिम्मेदार लोगों की वजह से परेशान है। अब ऐसे लोगों को चिन्हित किया जाएगा और इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
यह बात केके गुप्ता ने बुधवार को पत्रकार वार्ता के दौरान कही। गुप्ता ने कहा किशहरवासियो के खाली भूखंड अभी भी गंदगी से अटे है इससे मौसमी बीमारियों के संक्रमण का खतरा है। नगरपरिषद ने बार बार भूखंड की सफाई के लिए कहा गया है पर इस और भूखंड व्यवसायी कोई ध्यान नहीं दे रहे है। बदलते मौसम के बाद मच्छरों से लोग बुखार,मलेरिया जैसी छोटी मोटी बीमारियों की चपेट में आ रहे है हालांकि स्वच्छता के प्रति जागरूकता के कारण इन बीमारियों में 50 प्रतिशत की कमी है। सभापति ने शहरवासियों से कहा कि कई शहरवासी आज भी अपने घरो का कचरा नाली में फेक देते है। यह ठीक नहीं है। इस दौरान उपसभापति फखरुद्दीन बोहरा,पार्षद नगीनलाल जैन और स्वच्छता दूत नयन सुथार मौजूद थे।
भूखंड होंगे सीज
सभापति ने बताया कि शहर में स्वच्छता और स्वीकृति विरुद्ध निर्माण के लिए परिषद् के पार्षद की टीम बनाई है। यह प्रत्येक वार्ड में जाकर स्वच्छता और निर्माण कार्यो का निरीक्षण कर रही है। शहर में गंदे व खाली भूखंड को परिषद् टीम सफाई नहीं होने पर 48 घंटे के बाद सीज करने की कार्रवाई करेगी। नगरपरिषद की ओर से यह अंतिम चेतवानी है। परिषद ऐसे भूखंड को भी सीज करेगी जिसने 10 वर्ष की अवधि में भी निर्माण नहीं कराया है। सभापति ने कहा की ऐसे भूखंड को नगरीय भूमि निष्पादन नियम 1974 के अंतरगर्त नीलामी द्वारा विक्रय किये गए भूखंड पर निर्धारित 10 वर्ष की अवधि में भी निर्माण नहीं करने पर भूखंड को निरस्त करने अथवा भूखंड नीलामी की रही बढाकर वसूलने का नियम है।
वेस्ट कलेक्शन को सराहा
गुप्ता ने बताया की स्वच्छता में दूसरे शहरों के लिए रोल मोडल बना डूंगरपुर नगरपरिषद् अपने घर घर कचरा संग्रहण और कचरा निस्तारण के लिए प्रदेश में अपनी प्रशंसा बटोर रहा है बुधवार को मुख्यमंत्री ने अपने सॉशल पेज पर डूंगरपुर को एशिया और अफ्रीकी देशो के लिए रोल बताया है वही बिल गेट्स एंड मिलिंडा फाउंडेशन द्वारा दुनिया के 10 चुनिंदा शहरो में डूंगरपुर शहर का चयन होने पर बधाई दी। सभापति ने कहा यह प्रत्येक शहरवासी के लिए गौरव की बात है।